इस्लामाबाद. जब मंगलवार को दुनिया भर में मुसलमान मुहर्रम मना रहे थे पाकिस्तान में दूध की कीमत 140 रुपये प्रति लीटर हो गई. दिलचस्प बात यह है कि 140 रुपये प्रति लीटर दूध पेट्रोल और डीजल की तुलना में महंगा है. पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्टों के अनुसार पेट्रोल की कीमत 113 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 91 रुपये प्रति लीटर है. वहीं दूध के दाम 140 रुपये प्रति लीटर होने से ये सबसे महंगा बिक रहा है.

पाकिस्तान के प्रमुख शहरों में दूध की कीमत नियंत्रण से बाहर हो गई है. रिपोर्टों के अनुसार, यह कराची और सिंध प्रांत में 140 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गया है. एक दुकानदार ने कहा, कराची शहर में दूध की कीमत 120 रुपये से 140 रुपये के बीच है. कई निवासियों ने कहा है कि अपने जीवनकाल में उन्होंने मुहर्रम के कारण दूध की इतनी अधिक कीमत नहीं देखी है. इतनी कीमत से ये तो दिख ही रहा है कि इस समय पाकिस्तान में गाड़ी चलाना दूध पीने से ज्यादा सस्ता है. दूध की कीमत में भारी वृद्धि पाकिस्तान की चरमराती अर्थव्यवस्था की याद दिलाती है.

हाल ही में, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने इस महीने अपनी टीम को भेजने का फैसला किया है ताकि नकदी के संकट से जूझ रहे पाकिस्तान को बढ़ते बजट घाटे को कम करने के तरीके और सुझाव दिए जा सकें. इस्लामाबाद अपनी डूबती अर्थव्यवस्था को सुरक्षित करने के लिए विभिन्न संस्थाओं से अधिक निवेश और बेलआउट पैकेज हासिल करना चाहता है. इससे पहले जुलाई में, वैश्विक मुद्रा-ऋणदाता ने पाकिस्तान को छह बिलियन अमरीकी डालर का ऋण स्वीकृत किया था.

इसके अलावा, पाकिस्तान में चीन के राजदूत याओ जिंग ने यह भी घोषणा की है कि बीजिंग पाकिस्तान में विकास परियोजनाओं में एक बिलियन अमरीकी डालर का निवेश करने की योजना बना रहा है, विशेष रूप से सीपीईसी जो बलूचिस्तान में ग्वादर पोर्ट को चीन के शिनजियांग प्रांत से जोड़ता है.

India vs Pakistan in UNHRC Session Highlights: यूएनएचआरसी में भारत का पाकिस्तान को करारा जवाब- जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाना हमारा आंतरिक मसला, दखलअंदाजी पसंद नहीं

UNHRC Pakistan Alone Against India: यूएनएचआरसी जेनेवा में कश्मीर मुद्दे पर भारत को घेरना पाकिस्तान के लिए टेढ़ी खीर

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर