नई दिल्लीः पाकिस्तान की सत्ता में आने ही प्रधानमंत्री बने इमरान खान ने सरकार के पैसे को बचाने के लिए राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और तमाम आला अधिकारियों और नेताओं द्वारा सरकारी खर्चे से प्रथम श्रेणी की हवाई यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया था जिसके बाद उनके इस ऐलान को लेकर पाकिस्तान में उनकी खूब तारीफें हुई थीं लेकिन अब ऐसा लग रहा है कि वह खुद सरकारी धन की फिजूलखर्जी को रोकने के मन में नहीं हैं. जिस दिन से इमरान खान ने पीएम पद की शपथ ली है उसी दिन से वह अपने प्रधानमंत्री आवास से अपने कार्यालय (पीएमो) तक हेलिकॉप्टर से जाते हैं जिसकी दूरी महज उनके घर से 15 किलोमीटर है. जिसकी जानकारी लगते ही वो पाकिस्तान में विपक्षी दलों के निशाने पर आ गए हैं.

जब इस बारे में मीडिया ने सूचना मंत्री फवाद खान से पूछा तो उन्होंने कहा कि पीएम अपने बानी गाला स्थित आवास से प्रधानमंत्री कार्यालय तक जिस हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल करते हैं उसमें मात्र 55 रुपये (पाकिस्तानी) प्रति किलोमीटर का खर्च आता है. जबकि कार से जाने पर इससे ज्यादा खर्च आता है. जिस वजह से पीएम इमरान खान सरकारी पैसा बचाने के लिए हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर रहे हैं. लेकिन उनकी तारीफ होने के बजाय लोग सोशल मीडिया पर उनका मजाक बना रहे हैं.

बता दें कि इमरान खान उस वक्त पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने हैं जिस वक्त पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था काफी नाजुक दौर से गुजर रही है. पाकिस्तान अपना गुजारा चीन के कर्ज और अमेरिका की आर्थिक मदद से कर रहा है. ऐसे में घर से ऑफिस की मात्र 15 किलोमीटर की दूरी हेलिकॉप्टर से तय करने के लिए इमरान खान आलोचकों के निशाने पर आ गए हैं.

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान सरकार के पास अभी कुल 7 हेलीकॉप्टर हैं जिसमें से दो हेलीकॉप्टर पीएम इमरान खान द्वारा इस्तेमाल किए जाते हैं. इमरान खान जिस हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल करते हैं उसमें अगस्ता वेस्टलैंड का डब्लू 139 हेलिकॉप्टर है जो एक नॉटिकल माइल्क की दूरी तय करने में 1600 रुपये (पाकिस्तानी) का फ्यूल खर्च करता है. जिसके हिसाब से इमरान खान को अपने घर तक पहुंचने के लिए इस्तेमाल किए जा रहे हेलिकॉप्टर का खर्च 12 से 16 हजार रुपये का आता है जबकि अगर इमरान खान अगर कार से अपने ऑफिस जाएं तो यह खर्च कई गुणा घटकर अत्यधिक 800 रुपये तक ही बैठेगा.

अगर भारतीय रुपये के हिसाब से देखें तो इमरान खान के बानी गाला स्थित घर और पीएमो के बीच की दूरी 15 किलोमीटर की है जो लगभग 8 समुद्री मील (नॉटिकल) की दूरी बनती है. ऐसे में कुल मिलाकर कुल खर्च की राशि पाकिस्तान में 1,28,000 रुपये और भारत में 73,635 रुपये है. अगर पीएम के काफिले को ध्यान में रखा जाए तो सड़क के माध्यम से यात्रा इतनी महंगी नहीं होगी.

पाकिस्तानः PM  इमरान खान का भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ा कदम, टास्क फोर्स को दिया छिपाए गए धन की वसूली के लिए 2 हफ्ते का समय

इमरान खान बोले- नवजोत सिंह सिद्धू शांतिदूत, उपमहाद्वीप में शांति के लिए भारत पाकिस्तान वार्ता हो, व्यापार हो

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App