इस्लामाबाद. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने के बाद पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने रविवार देर रात देश के नाम संबोधन में कालाधन, स्वच्छता अभियान, करप्शन आदि मिटाने के लिए कड़े कदम उठाने की बात कही. उन्होंने कहा कि मेरा सपना पाकिस्तान को इस्लामिक कल्याणकारी राज्य बनाने का है, जिसमें लोगों पर उनकी क्षमता के हिसाब से टैक्स लगे. इमरान खान ने भ्रष्टाचार पर बोलते हुए कहा कि हमें देश की दिशा बदलनी होगी. अगर ऐसा नहीं किया तो पाकिस्तान आपदा की तरफ बढ़ जाएगा.

देश के भ्रष्ट राजनेताओं पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि उनकी सरकार पाकिस्तान की सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (एसईसीपी) को ठीक करेगी. भ्रष्टाचारियों पर सख्ती की बात करते हुए इमरान खान ने कहा कि जब हम उन्हें टार्गेट करेंगे तो वे बहुत शोर करेंगे. वे सड़कों पर आ सकते हैं या लोकतंत्र के खतरे की बात कह सकते हैं. अब या तो पाकिस्तान बचाया जाएगा या इन भ्रष्ट लोगों को.

पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति को रेखांकित करते हुए खान ने कहा कि विदेश में रहने वाले पाकिस्तानियों के लिए निवेश के अवसर बनाना आवश्यक है. इसके साथ ही अवैध धन जमा करने वालों से पैसे निकलवाने के लिए एक उच्चस्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा. इमरान खान ने कहा कि इस तरह के लोग देश के असली अपराधी हैं. इमरान खान ने देश में सरकारी स्कूलों की हालत सुधारने पर भी जोर दिया.

देश में बाल शोषण के मामलों पर चिंता जताते हुए इमरान खान ने कहा कि अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. देश में बेहतर कानून व्यवस्था के लिए काम किए जाएंगे. उन्होंने कहा कि मैं खैबर पख्तुनख्वा में पुलिस व्यवस्था में बदलाव से खुश हूं. यह प्रांत में हमारी चुनाव जीत का एक प्रमुख कारण था. इमरान खान ने गृह मंत्रालय अपने पास रखा है. इसे अपने पास रखने का कारण बताते हुए उन्होंने कहा कि वे भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा अभियान छेड़ने जा रहे हैं. ऐसे में उन्हें देश की जनता का साथ चाहिए.

विकट आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान की स्थिति के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा कि देश का कर्ज 15000 बिलियन से बढ़कर 28000 बिलियन हो गया है. इसका ऑडिट कराकर पता लगाया जाएगा कि यह पैसा कहां गया. उन्होंने कहा कि पूरे पाकिस्तान में स्वच्छता अभियान की शुरुआत की जाएगी और कम बजट वाले 50 लाख घर बनाए जाएंगे. स्वच्छता अभियान के जरिए पाकिस्तान को यूरोपीय देशों की तर्ज पर खूबसूरत बनाया जाएगा.

इसके अलावा इमरान खान ने अपने आवास के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा कि मेरे पास तीन बेडरूम वाला घर है. वे पीएम के बंगले में नहीं रहेंगे जहां 524 कर्मचारी, 80 गाड़ियां और 33 बुलेट प्रूफ गाड़ियां, हेलीकॉप्टर और विमान हैं. उन्होंने कहा कि यह बड़े ही शर्म की बात है कि आजादी के बाद देश की बड़ी आबादी के पास छत भी नहीं है और प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, गवर्नर, कमिश्नर के बड़े-बड़े बंगले हैं.

पाक सेना प्रमुख से गले मिलने पर नवजोत सिंह सिद्धू पर भड़के पंजाब CM कैप्टन अमरिंदर सिंह, बोले- इसका हमसे कोई लेना-देना नहीं

BJP नेता की मांग- इमरान खान के शपथ ग्रहण में पाक आर्मी चीफ को गले लगाने पर नवजोत सिंह सिद्धू को हो फांसी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App