नई दिल्ली. पाकिस्तान के प्रधान मंत्री इमरान खान ने रविवार को भारतीय सरकार द्वारा जम्मू और कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द करने के बाद भारत के साथ तनाव के बीच ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी के साथ कश्मीर के हालात पर चर्चा की. इमरान खान ईरान और सऊदी अरब के कड़वे क्षेत्रीय प्रतिद्वंद्वियों के बीच तनाव को कम करने में मदद के लिए रविवार को तेहरान का दौरा करने के लिए गए. इमरान खान ने राष्ट्रपति रूहानी के साथ राष्ट्रपति महल में बातचीत की और बाद में ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खमेनी के साथ मुलाकात की. पाकिस्तान विदेश कार्यालय ने एक बयान में कहा कि खान ने रूहानी के साथ कश्मीर की स्थिति पर चर्चा की और कश्मीर मुद्दे पर ईरान के समर्थन पर आभार व्यक्त किया.

भारत द्वारा जम्मू और कश्मीर की विशेष स्थिति को 5 अगस्त को वापस लेने के बाद पाकिस्तान कश्मीर मुद्दे का अंतर्राष्ट्रीयकरण करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन भारतीय सरकार ने अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया और कहा कि यह उनका आंतरिक मामला था और साथ ही इस्लामाबाद को वास्तविकता स्वीकार करने के लिए कहा है. भारत ने यह भी कहा है कि कश्मीर मुद्दे पर किसी तीसरे पक्ष की मध्यस्थता की कोई गुंजाइश नहीं है. यह प्रधान मंत्री इमरान खान की इस वर्ष ईरान की दूसरी यात्रा थी. उन्होंने सितंबर में न्यूयॉर्क में 74 वें यूएनजीए सत्र के दौरान ईरानी राष्ट्रपति के साथ द्विपक्षीय बैठक भी की थी.

उनके मंगलवार को सऊदी अरब जाने की उम्मीद है. पाकिस्तान दोनों देशों के साथ घनिष्ठ संबंधों के कारण ईरान और सऊदी अरब के बीच संबंधों को बेहतर बनाने की कोशिश कर रहा है. पूर्व प्रमुख नवाज शरीफ ने भी 2016 में दो राजधानियों का दौरा किया ताकि उनके मतभेदों में कमी लाई जा सके. लेकिन इस बार इमरान खान ने इसके साथ ही अपने मुद्दे भी ईरान के सामने रखे. हालांकि भारत ग्लोबल स्तर पर बता चुका है ये उनका आंतरिक मामला है. वहीं कई विदेशी सरकारों ने ये भी कहा है कि ये दोनों देश को आपस में सुलझाना चाहिए.

Also read, ये भी पढ़ें: Pakistani Drones on Border: सुरक्षाबलों को मिली मंजूरी, बॉर्डर पर दिखने वाले ड्रोन को मार गिराएं

Belgian Physicist Joseph Plateau Google Doodle: जोसेफ एंटोनियो की वजह से हम देख रहे हैं वीडियो और फिल्में, गूगल ने डूडल के जरिए मनाई 218वीं जयंती

Letter to PM Students Expulsion Revoked: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखने वाले महाराष्ट्र कॉलेज के 6 छात्रों का निष्कासन किया गया रद्द

HAL Employees Strike: हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के 20,000 कर्मचारी आज से करेंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल