इस्लामाबाद: भ्रष्टाचार पर हमला करने के वाले अपने चुनावी वादे को पूरा करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को अवैध रूप से अधिग्रहित विदेशी संपत्तियों को पुनः प्राप्त करने और छुपाए हुए पैसों की वसूली की योजना बनाने के लिए एक टास्क फोर्स को दो सप्ताह की समयसीमा दी है. सोमवार को इमरान खान ने टास्क फोर्स की अपनी पहली बैठक की अध्यक्षता की जहां उन्हें टास्क फोर्स ने विभिन्न सरकारी विभागों में मनी लॉंडरिंग और वित्तीय धोखाधड़ी के मामलों की लंबित जांच की वर्तमान स्थिति की के बारे में सूचित किया.

बैठक में इमरान खान ने कहा कि उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता सरकार से छिपाए गए विदेशी बैंकों में जमा धन की वसूली करना है और और अवैध रूप अधिग्रहित विदेशी संपत्तियों को वापस लाने का है. टास्क फोर्स के सूत्रों ने बताया कि इमरान खान ने ‘विदेश में अवैध रूप से अधिग्रहित धन की तत्काल वापसी’ के लिए कदम उठाने के लिए टास्क फोर्स को दो सप्ताह की समयसीमा तय की है.

जिसके बाद टास्क फोर्स के अध्यक्ष ने पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय को गैरकानूनी अधिग्रहित विदेशी संपत्तियों को पुनर्प्राप्त करने के लिए देश के सुप्रीम कोर्ट के दायरे में स्थापित समितियों द्वारा तैयार की गई पूर्व रिपोर्ट साझा करने का निर्देश दिया है. इमरान खान ने टास्क फोर्स से सरकारी विभागों और संगठनों के समक्ष लंबित वित्तीय धोखाधड़ी के सभी मामलों की समीक्षा करने के लिए कहा गया है.

सूत्रों के मुताबिक मौजूदा टास्क फोर्स अंतर्राष्ट्रीय समझौतों की जांच के लिए भी जिम्मेदार होगी जिसमें चोरी किया गया धन और अघोषित अवैध संपत्तियों की वसूली को तेजी से ट्रैक करने के लिए पाकिस्तान की सरकार के साथ-साथ अन्य विभागों के साथ भी समन्वय को सुनिश्चित करना है.

बता दें हाल में पाकिस्तान में सभी नागरिकों को अपनी तमाम संपत्ति घोषित करने का आखिरी मौका दिया गया था और सरकार की नजरों से छिपाए गए धन और घरेलू टैक्स पर भी एमनेस्टी योजनाए दीं थी. जिसके बाद इस योजना का लाभ 5 हजार से अभिक लोगों ने उठाया जिसमें 8 बिलियन डॉलर से अधिक की संपत्ति को घोषित किया गया था. जिसमें बाहर से देश में वापस आया पैसा 70 मिलियन डॉलर से कम था. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण करने के बाद देश के नाम अपने पहले संबोधन में इमरान खान ने भ्रष्टाचार से निपटने की कसम खाई थी और कहा था कि वह देश के छिपाए गए धन को वापस लाने के लिए टास्क फोर्स तैयार करेंगे.

दाऊद इब्राहिम के बेटे के बाद डॉन छोटा शकील का बेटा बना हाफिज, अंडरवर्ल्ड में मची खलबली

पाकिस्तान में ईद पर आतंक के लिए चंदा मांगते दिखे आंतकी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App