नई दिल्ली. पाकिस्तान के सूचना और प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी ने पाकिस्तान और भारत के बीच वार्ता के बारे में बताया. फवाद चौधरी का कहना है कि अभी भारत के साथ बात करने का सही समय नहीं है. अभी शांती वार्ता का आयोजन नहीं किया जा सकता क्योंकि भारत के नेता अभी आम चुनाव में व्यस्त हैं. उन्होंने कहा कि अभी चुनाव के परीणाम आने तक दिल्ली से किसी भी तरह की बात करना फिजूल होगा. इसलिए पाकिस्तान भारत से शांती वार्ता आम चुनाव खत्म होने के बाद ही करेगा. उन्होंने कहा कि वो नई सरकार का इंतजार करेंगे क्योंकि अभी की भारतीय सरकार से किसी बड़े फैसले की उम्मीद नहीं की जा सकती है.

  1. फवाद चौधरी ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि, ‘अभी भारत से बात करना फिजूल है जब तक कोई स्थिरता ना आ जाए. हम इस बारे में आगे कोई फैसला लेंगे जब भारत में चुनाव के बाद नई सरकार बन जाएगी.’ उन्होंने कहा, ‘हमने भारत के साथ बातचीत करने की अपनी कोशिश अभी के लिए टाल दी है क्योंकि हमें अभी की सरकार से बड़े फैसलों की उम्मीद नहीं कर रहे हैं.’
  2. फवाद चौधरी से सवाल किया गया कि भारत और पाकिस्तान के बीच शांती वार्ता के लिए कौन सा भारतीय नेता सही होगा नरेंद्र मोदी या राहुल गांघी? इसपर जवाब में उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान सरकार भारत के लोगों द्वारा चुनी गई कोई भी पार्टी और किसी भी नेता की इज्जत करेंगे. पकिस्तान को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता की कौन सत्ता में है. जो भी चुनाव के बाद सत्ता में आएगा हम आगे बढ़कर शांती वार्ता की कोशिश करेंगे.’
  3. दरअसल 2016 से भारत और पाकिस्तान के बीच विवाद आतंकवाद और कश्मीर के मुद्दे के कारण बढ़ता ही जा रहा है. भारत इसपर अपना पक्ष साफ कर चुका है कि आतंकवाद और बात एक साथ नहीं हो सकती. भारत का कहना है कि पाकिस्तानी आतंकवादियों को पाक सरकार से ही सपोर्ट मिलता है इस कारण भारत पाक सरकार से भी बात नहीं करेगी.

Rahul Gandhi Promotion T-Shirt: नमो अगेन के जवाब में आई कांग्रेस की माई नेक्स्ट पीएम राहुल गांधी टी-शर्ट

Faf Du Plessis on Sarfraz Ahmed: एंडिल फेहलुकवायो पर नस्लभेदी टिप्पणी करने वाले सरफराज अहमद पर बोले फाफ डु प्लेसिस- जाओ माफ किया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App