इस्लामाबाद. पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने मुंबई 26/11 हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद के संगठन जमात उद दावा और फलाह ए इंसानियत पर प्रतिबंध लगा दिया है. एंटी टेररिज्म एक्ट 1997 के तहत पाकिस्तान की सरकार के गृह मंत्रालय ने यह कदम उठाया है. इस फैसले के बाद माना जा रहा है कि जम्मू कश्मीर में हुए पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान में पनाह ले रहे आतंकियों को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार की कूटनीति से पाकिस्तान की इमरान खान सरकार अंतरराष्ट्रीय दबाव में आ गई है.

दूसरी ओर मंगलवार को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के सूचना एवं संस्कृति मंत्री फयाजुल हसन चौहान ने हिंदू विरोधी टिप्पणी देने के बाद सरकार से इस्तीफा दे दिया. पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार ने चौहान को अपने आवास पर बुलाकर हिंदू विरोधी टिप्पणी करने पर स्पष्टीकरण मांगा जिसके कुछ समय बाद ही फयाजुल हसन चौहान ने इस्तीफा दे दिया.

वहीं मंगलवार 5 मार्च को पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के 44 आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया गया. पाकिस्तानी मीडिया की मानें तो पठानकोट हमले के आरोपी और जैश सरगना मसूद अजहर के भाई रौफ असगर को भी हिरासत में लिया गया है. इसके साथ ही दर्जनों आतंकी संदिग्धों के अलावा मसूद अजहर के कई करीबी रिश्तेदारों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

Navy Exposed Pakistan claim on Indian Submarine: भारतीय पनडुब्बी के पाकिस्तान में दाखिल होने के दावे को नौसेना ने किया खारिज, कहा- हर रोज फर्जी खबरें फैला रहा है पाक

Masood Azhar Brother Detained: पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के 44 सदस्य गिरफ्तार, मसूद अजहर का भाई रौफ असगर हिरासत में

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App