इस्लामाबाद. आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान में इमरान खान सरकार पर संकट गहराता जा रहा है. पाक आर्मी जीफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने बुधवार को व्यापारियों के साथ एक अहम बैठक की है. इससे कयास लगाए जा रहे हैं कि पाकिस्तान में सेना पीएम इमरान खान का तख्तापलट कर सकती है. पाकिस्तान की माली हालत फिलहाल काफी खराब चल रही है. इसी बीच सेना राजनीतिक और आर्थिक मामलों में सीधे दखल देना शुरू कर दिया है.

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि राष्ट्रीय सुरक्षा पूरी तरह देश की अर्थव्यस्था से जुड़ी हुई है. सुरक्षा और आर्थिक विकास के बीच संतुलन बनाकर चलने पर ही समृद्धि आती है. इसके लिए यह सत्र आयोजित किया गया जिसमें सरकार की आर्थिक टीम और देश के बड़े बिजनेसमेन ने हिस्सा लिया.

पाकिस्तान की स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाक का व्यवसायी वर्ग इमरान खान सरकार की नीतियों से नाखुश है और वे बदलाव चाहते हैं. इसके लिए उन्हें मौजूदा हालात में सेना ही दूसरा विकल्प नजर आ रहा है. इस बैठक में बाजवा ने सभी व्यापारियों से देश की आर्थिक स्थिति सुधारने के विकल्पों पर चर्चा की.

इससे पहले भी पाकिस्तान में कई बार सेना तख्तापलट कर चुकी है. 1958, 1969, 1977 और 1999 में पाक सेना सरकार का तख्तापलट किया. पाकिस्तान की जनता में भी सरकार के खिलाफ नाराजगी है. पीएम इमरान खान देश को आर्थिक संकट से उबारने में फेल होते नजर आ रहे हैं. 

गौरतलब है कि कमर जावेद बाजवा का पाकिस्तान आर्मी चीफ के पद का कार्यकाल इसी साल समाप्त होने वाला था. पिछले महीने ही इमरान खान सरकार ने उनके कार्यकाल को 3 साल के लिए बढ़ा दिया था. अब अगले तीन साल तक जनरल बाजवा ही पाक सेना प्रमुख बने रहेंगे.

अंतरराष्ट्रीय लताड़ के बावजूद नहीं सुधरा पाकिस्तान, पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी का आतंकी संगठन तालिबान के को-फाउंडर से हंसते-गले मिलते वीडियो वायरल

दिल्ली-एनसीआर में नवरात्रि-दिवाली से पहले आतंकी हमले की आशंका से आईबी का हाई अलर्ट, 4 जैश आतंकवादियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App