नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी सरकार के जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के बाद बौखलाया पाकिस्तान पागलपन की राह पर उतर आया है. अब पाकिस्तान ने अपने हवाई क्षेत्र से देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विमान को गुजरने की अनुमति नहीं दी है. पाकिस्तान की इमरान खान सरकार में वित्त मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस बात की पुष्टि की. दरअसल भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सोमवार 9 सितंबर को तीन देश आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और स्लोवेनिया की यात्रा पर निकल रहे हैं. ऐसे में उनका विमान को पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र से गुजरना था. भारत ने इसको लेकर पाकिस्तान से आग्रह किया था. उस दौरान खबर भी आई कि पाकिस्तान अपने हवाईक्षेत्र से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विमान को जाने की अनुमति देने की तैयारी में है लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

पाकिस्तान सरकार में मंत्री फवाद खान ने भी हाल ही में ट्वीट कर कहा था कि प्रधानमंत्री इमरान खान भारत के इस्तेमाल के लिए अपने हवाई क्षेत्र को पूरी तरह बंद करने का विचार कर रही है. साथ ही भारत और अफगानिस्तान के बीच होने वाले कारोबार के लिए इस्तेमाल हो रहे पाकिस्तानी रास्तों को लेकर भी प्रतिबंध लगाने का विचार किया जा रहा है.

9 सितंबर को तीन देशों की यात्रा पर जाएंगे देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

सोमवार 9 सितंबर को राष्ट्रपति 9 दिवसीय आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और स्लोवेनिया के दौरे पर जाएंगे. इस दौरान राष्ट्रपति कश्मीर समेत कई मुद्दों पर इन देशों के शीर्ष नेतृत्व से वार्ता भी करेंगे. राष्ट्रपति पहले नौ सितंबर को आइसलैंड पहुंचेंगे और वहां राष्ट्रपति गुडनी जॉनसन और पीएम कैट्रिन से मुलाकात करेंगे. साथ ही राष्ट्रपति कोविंद आइसलैंड यूनिवर्सिटी में हरित ग्रह की ओर से भारत आईसलैंड साझेदारी के विषय पर व्याख्यान देंगे. 11 सितंबर को राष्ट्रपति स्विट्जरलैंड पहुंचेंगे और वहां से 15 को रवाना होंगे जिसके बाद राष्ट्रपति स्लोवेनिया का दौरा करेंगे.

NSA Ajit Doval Jammu Kashmir Article 370: जम्मू-कश्मीर के हालात पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल का बड़ा बयान- आर्मी केवल घाटी के आंतकियों के खिलाफ, नागरिकों को कोई नुकसान नहीं

Indians Reply To Pakistani Tweets On Chandrayaan Mission: चंद्रयान 2 पर पाकिस्तान के ट्वीट्स का इंडियन्स ने दिया जवाब, सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की बोलती कर दी बंद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App