नई दिल्ली. शहीद मोहतरमा बेनजीर भुट्टो मेडिकल यूनिवर्सिटी, एसएमबीबीएमयू बीबी एसेफा डेंटल कॉलेज (जिसे चंदका मेडिकल कॉलेज भी कहा जाता है) की छात्रा निम्रिता कुमारी सोमवार को मृत पाई गई. विश्वविद्यालय प्रशासन ने कहा था कि उसने विश्वविद्यालय के हॉस्टल नंबर 3 में अपने कमरे में सीलिंग फैन से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. हालांकि निम्रिता के भाई डॉ विशाल ने कहा है कि उसकी हत्या की गई है. पोसमार्टम रिपोर्ट में बताया गया है कि निम्रिता की मौत दम घुटने से हुई है. विशान ने मांग की कि पोस्टमार्टम एक निजी अस्पताल में दोबारा किया जाए.

मंगलवार को मीडिया से बात करते हुए, उन्होंने कहा कि वह खुद मेडिकल कंसलटेंट हैं और कराची के एक शीर्ष मेडिकल कॉलेज में पढ़ाते हैं. उन्होंने कहा, मैं बता सकता हूं कि उसकी हत्या कर दी गई क्योंकि उसके हाथों और उसकी गर्दन पर निशान हैं. उन्होंने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बदलाव किए गए हैं क्योंकि इस मामले में प्रभावशाली लोग शामिल हैं. वहीं दूसरी ओर लरकाना के चंदका मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य, प्रोफेसर डॉ के दास ढोलिया के अनुसार, प्रारंभिक पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में निम्रिता की मौत का कारण आत्महत्या बताया गया है.

प्रोफेसर धोलिया ने कहा कि प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी पुष्टि की गई है कि उनके शरीर पर यातना के कोई निशान नहीं थे. मृतक के शरीर से नमूने कराची और लरकाना की लैब में भेजे गए थे. मामले की जांच शुरू की गई है और लैब के परिणाम आने के बाद सच्चाई का पता लगाया जा सकता है. विशाल का कहना है कि निम्रिता दोपहर 12.30 बजे कॉलेज में मिठाइयां बांट रही थीं. विशाल ने पूछताछ की कि अगले 90 मिनट में क्या हो गया कि निम्रिता ने आत्महत्या कर ली. कॉलेज प्रशासन के अनुसार निम्रिता लगभग 2 बजे विश्वविद्यालय के छात्रावास नंबर 3 में अपने कमरे में मृत पाई गई थी.

इसी के बाद सोशल मीडिया पर उसकी मौत की गुत्थी सुलझाने, मामले की निष्पक्ष जांच और निम्रिता को इंसाफ दिलवाने के लिए कैंपन शुरु हो गया है. #JusticeForNimrita हैशटैग के साथ लोग निम्रिता के लिए इंसाफ के लिए ट्वीट कर रहे हैं. पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर ने बुधवार को छात्र निम्रिता की कथित हत्या पर दुख व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट करके लिखा, युवा मासूम लड़की निम्रिता कुमारी की संदिग्ध मौत के बारे में पढ़कर बेहद दुख हुआ. मुझे उम्मीद है कि न्याय दिया जाएगा और असली दोषी पकड़े जाएंगे.

Pregnant Woman Beaten in Assam: गर्भवती महिला को बहनों समेत असम पुलिस चौकी के अंदर पीटा और कपड़े फाड़े, हुआ गर्भपात

Delhi Girl Gangrape in Indraprastha Park: इंद्रप्रस्थ पार्क में युवती का बलात्कार, सरकारें बदल गईं लेकिन बेटी आज भी दिल्ली में असुरक्षित, ये कैसा इंसाफ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App