नई दिल्ली. इमरान खान ने आज पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली. इमरान खान ने शपथ समारोह में पंजाब सरकार में मंत्री के तौर पर शामिल नवजोत सिंह सिद्धू को बुलाया था. राष्ट्रपति भवन में आयोजित शपथ समारोह में नवजोत सिंह सिद्धू को पाक अधिकृत कश्मीर के राष्ट्रपति मसूद खान के पास बैठाया गया. शपथ समारोह में भाग लेने पहुंचे नवजोत सिंह सिद्धू ने जब पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा को गले लगाया तो 1999 की याद ताजा हो गईं.

दरअसल 1999 में तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी बस यात्रा लेकर लाहौर पहुंचे थे. उस समय पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पीएम अटल बिहारी बाजपेयी का गर्मजोशी के साथ स्वागत करते हुए गले लगाया था. लेकिन अटल बिहारी वाजपेयी की इस यात्रा के बाद कारगिल युद्ध हुआ जिससे पूरी दुनिया वाकिफ है.

कारगिल युद्ध में करीब 500 सौ भारतीय सैनिकों को जान गंवानी पड़ी थी. नवजोत सिंह सिद्धू का पाक सेनाध्यक्ष के साथ गले मिलना जिससे एक नया विवाद पैदा हो गया है. सिद्धू के इस रवैये पर कई लोगों ने उनकी तीखी आलोचना की है. इतना ही नहीं जब पीएम नरेंद्र मोदी  ने लाहौर में नवाज शरीफ को गले लगाया उसके कुछ दिन बाद आतंकियों ने पठानकोट पर हमला किया था.

कांग्रेस प्रवक्ता राशिद अल्वी ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए कहा कि अगर नवजोत सिंह सिद्धू मुझसे सलाह लेते तो में उन्हें पाकिस्तान जाने की इजाजत कतई नहीं देता, राशिद अल्वी ने कहा कि वह दोस्ती के नाते पाकिस्तान गए हैं लेकिन दोस्ती कभी देश से बड़ी नहीं हो सकती. कांग्रेस प्रवक्ता ने आगे कहा, की बॉर्डर पर हमारे जवान मारे जा रहे हैं, ऐसे में सिद्धू को पाक आर्मी चीफ को गले लगाना गलत संदेश देता है उनके मुताबिक भारत सरकार को सिद्धू को पाकिस्तान जाने की इजाजत नहीं देनी थी.

वहीं भाजपा सांसद जगदंबिका पाल ने नवजोत सिद्धू को आड़े हाथों लेते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा. बीजेपी सांसद ने कहा कि कांग्रेज को उन्हें पाकिस्तान नहीं भेजना चाहिए था. पाक सेना अध्यक्ष को गले लगाना पूरे देश का अपमान है.  इसके अलावा सोशल मीडिया पर लोगों ने सिद्धू को आड़े हाथों लिया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अगले महीने मुलाकात कर सकते हैं पाकिस्तान के पीएम इमरान खान

Imran Khan swearing-in ceremony LIVE Updates: पाकिस्तान के 22वें प्रधानमंत्री बने इमरान खान, PM हाउस में दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App