नई दिल्ली. उत्तर कोरिया ने गुरुवार को कहा कि उसने संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ ताजा परमाणु वार्ता से पहले बाहरी खतरों और बोल्स्टर आत्मरक्षा के लिए समुद्र से एक नई पनडुब्बी-लॉन्च बैलिस्टिक मिसाइल (एसएलबीएम) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया था. विश्लेषकों ने कहा कि बुधवार को लॉन्च उत्तर कोरिया द्वारा सबसे उत्तेजक था, क्योंकि उसने 2018 में संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ बातचीत फिर से शुरू की जो विवाद के चलते दोबारा बंद हो सकती है. और हथियारों की क्षमता के प्योंगयांग द्वारा एक चेतावनी को आक्रामक रूप से विकसित किया गया है, जिसमें अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल शामिल हैं. उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने रक्षा वैज्ञानिकों को परीक्षण के लिए हार्दिक बधाई भेजी, उन्होंने संकेत दिया कि वह लॉन्च में शामिल नहीं हुए क्योंकि उनके पास नए हथियार प्रणालियों के पिछले परीक्षण हैं.

केसीएनए ने बुधवार को कहा कि नए प्रकार के एसएलबीएम, जिसे पुकगुकसॉन्ग -3 कहा जाता है, को पूर्वी शहर वॉनसन के पानी में वर्टिकल मोड में निकाल दिया गया था. इसके बाद बुधवार को दक्षिण कोरिया की सेना द्वारा एक मिसाइल के प्रक्षेपवक्र पर प्रक्षेपित किए जाने की पुष्टि की है. केसीआर ने कहा, नई प्रकार की एसएलबीएम परीक्षण-फायरिंग का बहुत महत्व है क्योंकि इसने डेमोक्रेटिक पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ कोरिया, डीपीआरके को बाहरी ताकतों को रोकने और आत्मरक्षा के लिए अपनी सैन्य मांसपेशियों को आगे बढ़ाने में एक नए चरण की शुरुआत की है.

केसीएनए ने कहा, परीक्षण में पड़ोसी देशों की सुरक्षा पर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ा. लेकिन उन्होंने लॉन्च के बारे में कोई अन्य विवरण नहीं दिया. उत्तर के आधिकारिक रोडोंग सिनमुन अखबार में जारी की गई तस्वीरों, जिनके सामने के दो पन्नों में परीक्षण दिखाया गया था, ने एक काले और सफेद रंग की मिसाइल को पानी की सतह के ऊपर दिखाया है. विदेश विभाग के एक प्रवक्ता ने प्योंगयांग को उकसावे से बचना और परमाणु वार्ता के लिए प्रतिबद्ध रहने का आह्वान किया.

दक्षिण कोरिया ने कड़ी चिंता व्यक्त की और जापानी प्रधान मंत्री शिंजो आबे ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का उल्लंघन करते हुए इस लॉन्च की निंदा की. उत्तर कोरिया ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों को खारिज कर दिया है जो प्योंगयांग को बैलिस्टिक मिसाइल प्रौद्योगिकी का उपयोग करने से रोकते हुए कहते हैं कि वे आत्मरक्षा के अपने अधिकार का उल्लंघन हैं.

Pakistan Non Muslim PM Bill: पाकिस्तान नेशनल असेंबली ने गैर मुस्लिमों को देश का राष्ट्रपति या प्रधान मंत्री बनने की मांग के बिल को किया अस्वीकार

Amit Shah Delhi-Katra Vande Bharat Express: दिल्ली-कटरा वंदे भारत एक्सप्रेस को गुरुवार को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे गृह मंत्री अमित शाह, महज 8 घंटे में वैष्णो मां के द्वार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App