नई दिल्ली. Nawaz Sharif Health Updates: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की हालत में कोई सुधार नहीं दिख रहा है. पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक सोमवार से अस्पताल में भर्ती नवाज शरीफ का प्लेटलेट्स काउंट 2000 तक पहुंच गया है. बुधवार रात उनकी बेटी मरियम नवाज को उनके पिता से मिलने के लिए 24 घंटे की पेरोल पर छोड़ा गया. इसी बीच नवाज शरीफ के बेटे हुसैन नवाज ने पाकिस्तान सरकार और आर्मी पर आरोप लगाया है कि उनके पिता को जेल में जहर देकर मारने की कोशिश की गई है, जिसके वजह से उनकी हालत खराब हो गई है.

आपको बता दें कि पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री व पाकिस्तान मुसलिम लीग पार्टी (एन) के नेता नवाज शरीफ को सोमवार रात तबीयत बिगड़ने के कारण लाहौर के सर्विस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जानकारी के मुताबिक अस्पातल में भर्ती होने के समय नवाज शरीफ की प्लेटलेट्स करीब 16000 थीं. इसके बाद डॉक्टरों ने तत्काल उनको प्लेटलेट्स चढ़ाई, लेकिन उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हो रहा है. मंगलवार को जारी की गई मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक उनकी प्लेटलेट्स 16000 से गिरकर 2,000 तक पहुंच गई हैं. आपको बता दें कि किसी भी मरीज की प्लेटलेट्स में इतनी गिरावट होना चिंता का विषय होता है. शरीर में इतनी कम प्लेटलेट्स होना किसी भी मरीज के लिए जानलेवा साबित हो सकता है.

नवाज शरीफ 69 साल के हैं और वे कई गंभीर बीमारियों से ग्रसित हैं. नवाज शरीफ हाई बल्ड प्रेशर, दिल की बीमारी, गुर्दे की बीमारी के मरीज रहे हैं. ऐसे में उनके शरीर में प्लेटलेट्स का 2,000 तक पहुंच जाना एक गंभीर विषय है. आमतौर पर एक स्वस्थ इंसान के शरीर में 1,40,000 से 4,50,000 के बीच प्लेटलेट्स होनी चाहिए. हालत गंभीर होने के चलते सोमवार रात को नवाज शरीफ को आनन फानन में भर्ती कराया गया था और तभी से उनकी सेहत में कोई सुधार नहीं दिख रहा है.

नवाज शरीफ को सोमवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इसके बाद उनकी बेटी मरियम नवाज ने पंजाब सरकार से अपने पिता से मिलने के इजाजत मांगी थी. लेकिन तब मरियम के अनुसार सरकार ने उन्हें इजाजत देने से इनकार कर दिया था. वहीं अब जब पू्र्व पीएम नवाज शरीफ की हालत बेहद खराब है तो दो दिन बाद उनको पंजाब सरकार ने मिलने की अनुमति दे दी, जिसके बाद वह बुधवार देर रात उनसे सर्विस अस्पताल में जाकर मिलीं. खबर है कि उनकी बेटी भी अब अस्पताल में भर्ती हैं और उनके भी जरूरी टेस्ट कराए जा रहे हैं.

नवाज शरीफ की बेहद नाजकु सेहत को देखते हुए सोशल मीडिया पर आशंकाओं का दौर जारी है. लोग ट्विटर पर नवाज शरीफ की बिगड़ती हालत को लेकर ट्वीट कर रहे हैं. लोग अब यूनाइटेड नेशन (UNO) से इस मामले में दखल देने की बात कर रहे हैं और पूर्व पीएम नवाज शरीफ की मदद करने की गुहार लगा रहे हैं. सोशल मीडिया पर लोग जल्द से जल्द नवाज शरीफ को पाकिस्तान से बाहर इलाज कराने की बात कर रहे हैं.

आपको बता दें कि तीन बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री रहे नवाज शरीफ भ्रष्टाचार के मामले में 24 नवंबर 2018 से कोट लखपत जेल में बंद हैं. साथ ही उनकी बेटी मरियम नवाज भी कोट लखपत जेल में बंद हैं. इससे पहले नवाज शरीफ ने अपना इलाज कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट से बेल की अपील की थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने नामंजूर कर दिया था.