Thursday, December 8, 2022

एमसीडी चुनाव 2022 नतीजे

एमसीडी चुनाव  (250 / 250)  
BJP - 104
CONG - 09
AAP - 134
OTH - 03

लेटेस्ट न्यूज़

Time मैगज़ीन के पर्सन ऑफ द ईयर बने यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की

0
नई दिल्ली : यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की को विश्व प्रसिद्ध पत्रिका टाइम ने पर्सन ऑफ द ईयर 2022 बनाया है. बता दें, हर साल...

उत्तराखंड : कोर्ट ने Facebook पर लगाया 50 हजार का जुर्माना, जानिए पूरा मामला

0
नैनीताल : बुधवार (7 दिसंबर) को नैनीताल हाईकोर्ट ने फेसबुक पर 50 हजार का जुर्माना लगाया है. ये जुर्माना सही समय पर जवाब दाखिल...

हैदराबाद : देह व्यापर में धकेली जा रही थीं 14 हज़ार लड़कियां, ऐसे पकड़ा...

0
Hyderabad: हैदराबाद की साइबराबाद पुलिस को देह-व्यापर के गोरकधंधे में एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. पुलिस ने वेश्यावृत्ति का राजफास करते हुए 17...

मोदी-पुतिन की मुलाकात खत्म, पीएम ने कहा- युद्ध नहीं शांति चाहता है विश्व!

नई दिल्ली. समरकंद में शंघाई सहयोग संगठन (SCO) शिखर सम्‍मेलन के दौरान भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन की द्विपक्षीय बैठक हुई, इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच करीब एक घंटे तक बातचीत हुई. पीएम मोदी ने इशारों-इशारों में रूस के राष्ट्रपति को युद्ध को लेकर एक सुझाव भी दिया, उन्होंने स्पष्ट कह दिया कि ये युग युद्ध का नहीं बल्कि शांति का है. पीएम मोदी ने पुतिन से कहा कि डेमोक्रेसी, डिप्लोमेसी और डायलॉग से ही दुनिया को सही संदेश मिलेगा, वहीं ऊर्जा-सुरक्षा पर भी दोनों राष्ट्राध्यक्षों के बीच चर्चा हुई. पहले यह मीटिंग आधे घंटे के लिए होनी थी, लेकिन दोनों के बीच करीब एक घंटे तक बातचीत चली.

पुतिन ने पीएम मोदी को दिया रूस आने का न्योता

इस दौरान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भारतीय प्रधानमंत्री को रूस की यात्रा पर आमंत्रित किया, उन्होंने कहा कि हमारे बीच कंस्ट्रक्टिव रिश्ते हमेशा से रहे हैं. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि भारत ने रूस से फर्टिलाइजर की जो मांग की है, उसे बहुत जल्द पूरा किया जाएगा. उम्मीद है कि भारत के कृषि क्षेत्र को इससे मदद मिलेगी.

पीएम मोदी ने जताया आभार

इस मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने पुतिन से रूस और यूक्रेन का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आप दोनों की मदद से युद्ध के दौरान हम अपने स्टूडेंट्स को खतरे के बीच से बचाकर बाहर ला पाए. उन्होंने कहा कि भारत और रशिया के संबंध कई गुना आगे बढ़े हैं, इस मौके पर पीएम मोदी ने अपनी और पुतिन की दोस्ती का भी जिक्र किया और कहा कि हम एक ऐसे मित्र रहे हैं जिन्होंने दशकों से एक दूसरे का साथ दिया है और ये बात पूरी दुनिया को पता है. इसी कड़ी में पीएम मोदी ने पुतिन से पहली मुलाकात का जिक्र करते हुए कहा कि साल 2001 में जब आपसे पहली बार मिला था तब मैं एक स्टेट हेड था, तब से लगातार हमारी दोस्ती बढ़ी है. आज आपने भारत के लिए जो भावनाएं व्यक्त की है, उससे हमारे संबंध और अच्छे होंगे।

 

SCO समिट में जिनपिंग और शरीफ के सामने क्या बोले PM मोदी? जानें संबोधन की बड़ी बातें

Latest news