इस्लामाबादः आतंकी संगठन जमात-उद-दावा भारत के खिलाफ आतंक फैलाने के लिए अब नन्हें जिहादियों का इस्तेमाल कर रहा है. नन्हें मासूमों को आतंक की राह पर मोड़ते हुए जमात-उद-दावा की ऐसी ही एक खौफ की तस्वीर सामने आई है, जिसमें प्रतिबंधित संगठन के नेता सदाकत का मासूम बेटा हाथ में बंदूक लिए नजर आ रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह फोटो इस्लामाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम की बताई जा रही है. बताते चलें कि मुंबई हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद ही इस आतंकी संगठन का सरगना है. हाफिज की रिहाई के बाद से पाकिस्तान का चौतरफा विरोध हो रहा है.

टाइम्स ग्रुप की खबर के अनुसार, बच्चे के पीछे एक पोस्टर लगा हुआ, जिसपर लिखा है कि कश्मीर पाकिस्तान का अभिन्न हिस्सा है और कश्मीर की आजादी के लिए वह (जमात-उद-दावा) हमेशा समर्थन करते रहेंगे. आतंकी संगठन भारत के खिलाफ जिहाद फैलाने के मकसद से बच्चों का ब्रेनवॉश कर रहा है. जमात-उद-दावा पाकिस्तान में कई मदरसे भी चला रहा है, जहां भारत ही नहीं बल्कि अमेरिका के खिलाफ भी मासूमों के दिमाग में नफरत का जहर घोला जाता है.

आतंकी हाफिज सईद को लेकर पाकिस्तान का चौतरफा विरोध हो रहा है, जिससे आजिज आकर पाकिस्तान ने बढ़ते अंतरराष्ट्रीय दबाव के बाद एंटी-टेरर लॉ में संशोधन किया है. इस सुधार के बाद जमात-उद-दावा और फलह-ए-इंसानियत फाउंडेशन को भी प्रतिबंधित संगठनों की सूची में शामिल किया गया है. इसके साथ ही अब जल्द अल-अख्तर ट्रस्ट और अल-राशिद ट्रस्ट जैसे संगठनों पर भी प्रतिबंध लगाया जा सकता है. दरअसल यह सभी संगठन संयुक्त राष्ट्र संघ के प्रतिबंधित संगठनों की लिस्ट में हैं. हाल में अमेरिका ने पाकिस्तान द्वारा आतंक के मुद्दे पर नरम रूख अख्तियार करने पर उसे दी जाने वाली सालाना आर्थिक मदद पर रोक लगा दी थी.

सलाखें: पाकिस्तान से लगती सीमाओं के पास 14,000 बंकर बनाएगा भारत

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App