नई दिल्ली। पीएमएल-एन नेता और नेशनल असेंबली की सदस्य मरियम औरंगजेब ने पूर्व पीएम इमरान खान की नीतियों की जमकर आलोचना की है. उन्होंने आरोप लगाया है कि इमरान खान की अक्षमता का खामियाजा देश की जनता भुगत रही है. उनके मुताबिक इमरान की गलत नीतियों की वजह से देश में महंगाई सातवें आसमान पर पहुंच गई. इनकी वजह से देश में बेरोजगारों की संख्या में जबरदस्त इजाफा हुआ है. इस्लामाबाद में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि इमरान खान ने प्रधानमंत्री रहते हुए अपने अधिकारों का दुरुपयोग किया. उन्होंने सत्ता की ताकत का फायदा उठाते हुए मौजूदा पीएम शाहबाज शरीफ और अन्य नेताओं को फंसाया.

रेडियो पाकिस्तान के अनुसार, मरियम ने कहा कि पीएम के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान इमरान खान ने पीएमएल-एन के खिलाफ प्रचार करने के लिए ऐसा किया. उन्होंने कहा कि देश की जनता ने ही अपने निर्वाचित सदस्यों को इमरान खान को बाहर का रास्ता दिखाने का अधिकार दिया है. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में इमरान खान को मरियम की ओर से दिए गए तोहफे पर भी सवाल उठाए गए. इसके जवाब में मरियम ने कहा कि इमरान खान तोशेखाना के महंगे तोहफे अपने पास रखते थे. इसमें साढ़े दस करोड़ की बीएमडब्ल्यू कार भी शामिल है. मरियम के मुताबिक इमरान को एक पिस्टल भी गिफ्ट में दी गई थी, जिसका जिक्र तोशेखाना के रिकॉर्ड में नहीं था. वहां उसका रजिस्ट्रेशन भी नहीं था. उन्होंने आरोप लगाया कि इमरान खान ने पीएम रहते हुए इसे अवैध रूप से अपने पास रखा.

सऊदी अरब की मस्जिद-ए-नबावी में पीएम शाहबाज शरीफ के आगमन पर मरियम ने इमरान खान पर ‘चोर-चोर’ के नारे लगाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि इमरान खान ने पीएम के खिलाफ नारे लगाने वालों को वहां भेजा था. इस मामले में पाकिस्तान पुलिस ने 150 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. इसमें खुद इमरान खान का नाम भी शामिल है. मामला स्थानीय निवासी मोहम्मद नईम ने दर्ज कराया है. जियो टीवी के मुताबिक इसमें इमरान खान के अलावा फवाद चौधरी, शाहबाज गिल, कासिम खान सूरी, शेख राशिद शफीक, अनील मुसरत समेत अन्य लोगों के नाम शामिल हैं.

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर