नई दिल्ली: पिछले पांच सालों से आर्थिक संकट से जूझ रहे वेनेजुएला में महंगाई इतनी बढ़ गई है कि लोग अपनी सारी संपत्ति बेचकर एक वक्त का खाना भी नहीं जुटा पा रहे हैं. आर्थिक संकट की वजह से वहां की सरकार लगातार नोट छाप रही है जिससे हाइपर इनफ्लेशन की स्थिति बन गई है और वहां के रूपये वोलिवर की कीमत घटती जा रही है. आलम ये है कि वेनेजुएला में एक किलो टमाटर के बदले पचास लाख बोलिवर वहीं टॉयलेट पेपर के लिए 26 लाख बोलिवर देने पड़ रहे हैं.

अगर आप चिकन खरीदना चाहते हैं तो आपको 2.4 किलो चिकन के लिए 1.46 करोड़ बोलिवर चुकाने पड़ेंगे इसके अलावा मक्खन 75 लाख बोलिवर का मिल रहा है. अगर आप कॉफी पीना चाहते हैं तो आपको इसके लिए 25 लाख बोलिवर चुकाने होंगे. इन कीमतों से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि वेनेजुएला में रह रहे लोग इस वक्त किन हालातों का सामना कर रहे होंगे. खाने-पीने की चीजों के दाम आसमान छू रहे हैं. देश में बेरोजगारी का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है जिसके चलते लोग एक दूसरे को लूट रहे हैं. चारो तरफ कोहराम मचा हुआ है.

वेनेजुएला की सरकार ने इस गंभीर संकट को देखते हुए अपनी मुद्रा का 95 फीसदी अवमूल्यन करने का फैसला किया है. इसके अलावा सरकार न्यूनतम मजदूरी दर में 3000 फीसदी बढ़तरी करने जा रही है. 

आर्थिक संकट से घिरे वेनेजुएला में एक किलो टमाटर के बदले देने पड़ रहे हैं 50 लाख तो सेनेट्री पैड की कीमत पहुंची 35 लाख के पार

VIDEO: वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरे पर लाइव टीवी भाषण के दौरान विस्फोटक से भरे ड्रोन से हमला 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App