टोक्यो. काफी फैशनेबल माने जाने वाले जापान की राजधानी टोक्यो की गिंज़ा शहर में ताईमेई एलिमेंट्री नाम के एक निजी स्कूल इन दिनों चर्चा में आ गया है. दरअसल वहां के प्रशासन ने तय किया कि स्कूल की ड्रेस बदली जानी चाहिए. लेकिन चौंकाने वाली बात ये है कि इसके लिए उन्होंने अरमानी ब्रांड का रुख किया और ब्रांड द्वारा तैयार की गई ड्रेस की कीमत 80000 युआन (लगभग 49000 रुपये) है. इस बेहद स्टाइलिश और महंगी ड्रेस को बच्चों के माता-पिता ने खरीदने से मना कर दिया.

स्टाइल को लेकर काफी संजीदा रहने वाले जापान ने जब बच्चों की इस ड्रेस को स्टाइल के लिए इतना महंगा बना दिया तो अभिभावकों को इससे आपत्ति होने लगी. उनका कहना था कि ड्रेस की कीमत अभी की मौजूदा स्कूल ड्रेस की कीमत से तीन गुना है जो कि हर कोई नहीं खरीद सकता. साथ ही एक स्कूल की ड्रेस इतनी महंगी होने से बच्चों के बीच भी दूरियां बढ़ सकती हैं.

वहीं दूसरी ओर जापान के मशहूर शिक्षाविद नाओकी ओगी का मानना है कि ये स्कूल ड्रेस उनके लिए है जो उसे गर्व के साथ पहनना चाहते हैं ना कि गरीब बच्चों के लिए. इस मुद्दे को बीते गुरुवार को विपक्षी सांसद  मनाबू तेराडा ने जापान के निचले सदन की बजट सीमित की बैठक में उठाया. उनका कहना था कि एक प्राइवेट स्कूल जिस यूनिफार्म को बदल रहा है वह इतनी महंगी है कि कोई भी उसे खरीदने में कई बार सोचेगा. इसपर अन्य मंत्रियों ने सहमति जताते हुए कहा कि हर कोई इतना पैसा खर्च नहीं कर सकता.

स्कूल के बाथरूम में नौवीं क्लास की लड़की से तीन लड़कों ने किया रेप, एक था HIV पॉजिटिव

यूपी में बोर्ड परीक्षा शुरू, नकल रोकने के लिए योगी सरकार ने किए कड़े इंतजाम