यरुशलम. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दोस्त बेंजामिन नेतन्याहू पांचवी बार इस्राइल के प्रधानमंत्री बनेंगे. उन्होंने देश के आम चुनावों में जीत हासिल की. बुधवार को टीवी चैनल 12 ने इसकी जानकारी दी. अब तक 96 प्रतिशत वोटों की गिनती हो चुकी है, जिसमें से नेतन्याहू की राइट विंग पार्टी लिकुड ने नेसेट की 37 सीट पर जीत हासिल की.

जबकि उनके प्रतिद्वंदी और पूर्व जनरल बेनी गैंट्ज की सेंट्रिस्ट ब्लू एंड वाइट को 36 सीट हासिल हुई. इस चुनाव में कोई भी पार्टी 120 सदस्यों वाली नेसेट में बहुमत हासिल नहीं कर सकी. मंगलवार को चुनाव खत्म होने के 8 घंटों के बाद नतीजे घोषित कर दिए गए, जिसके बाद नेतन्याहू मजबूत स्थिति में नजर आ रहे हैं. वह दक्षिणपंथी धड़ों के साथ मिलकर गठबंधन सरकार बना सकते हैं.चुनाव में दोनों पार्टियों के बीच कड़ी टक्कर देखी गई.दोनों पार्टियां अपनी-अपनी जीत के दावे कर रही थीं.

एग्जिट पोल और शुरुआती नतीजों में 80 प्रतिशत वोटों की गिनती के बाद नेतन्याहू कि लिकुड को 38 सीट मिली थीं, जो साल 2015 के चुनाव से 8 ज्यादा हैं. वहीं ब्यू एंड वाइट पार्टी को 36 सीटें मिलती दिख रही थीं. मंगलवार को जब वोटों की गिनती शुरू हुई तो शुरुआती एग्जिट पोल्स में लिकुड और ब्लू एंड वाइट पार्टी के बीच कांटे की टक्कर चल रही थी. इसके बाद बुधवार को समर्थकों को संबोधित करते हुए नेतन्याहू ने इसे कमाल की उपलब्धि बताया. उन्होंने कहा, मुझे खुशी है कि इस्राइल की जनता ने मुझे पांचवी बार सरकार चलाने की जिम्मेदारी दी है, वो भी पहले से ज्यादा वोटों और विश्वास के साथ.

Britains Got Talent LIVE Ghost Magic Show Video: लंदन के टैलेंट शो में जादूगरनी ने दिखाई लाइव भूत, रियलटी शो का डरावना वीडियो !

Candida Auris Fungus in India: भारत तक पहुंचा खतरनाक कैंडिडा ऑरिस फंगस, 90 दिनों में हो जाती है मरीज की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App