द हेग. इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस ( आईसीजे) ने पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव के मामले में पाकिस्तान को वियना संधि के उल्लंघन पर कड़ी फटकार लगाते हुए सैन्य अदालत के जाधव की फांसी की सजा के फैसले की प्रभावी समीक्षा और पुर्नविचार करने के लिए कहा है. इसके साथ ही कोर्ट ने कुलभूषण जाधव को काउंसलर एक्सेस दिए जाने का आदेश दिया है. आईसीजे के फैसले को भारत की बड़ी कुटनीतिक जीत बताई जा रही है. देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,  दिल्ली के मुख्यमंंत्री अरविंद केजरीवाल, पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, पू्र्व वित्त मंत्री पी चिदांबरम समेत कई दिग्गज नेताओं ने आईसीजे के फैसले का स्वागत किया है. 

कुलभूषण मामले में भारत को मिली जीत पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आईसीजे के फैसले का स्वागत किया है, साथ ही काउंसलर एक्सेस की मंजूरी दी है. सच और न्याय हमेशा मजबूत है. हमारी मिट्टी का बेटा कुलभूषण जल्द ही अपने परिवार का पास वापस आ जाए.  

नरेंद्र मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में विदेश मंत्री रहीं सुषमा स्वराज ने कुलभूषण जाधव मामले में अंतराष्ट्रीय अदालत के फैसले का दिल से स्वागत किया है. सुषमा स्वराज ने कहा कि यह भारत के लिए बड़ी जीत है. 

यूपीए की मनमोहन सिंह सरकार में वित्त मंत्री रहे कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने आईसीजे के फैसले का असली न्याय बताया है. 

पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव मामले में आईसीजे के फैसले को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बड़ी जीत बताई है. 

कुलभूषण जाधव मामले में इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस के फैसले का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वागत किया है. पीएम नरेंद्र मोदी ने साक्ष्यों के आधार पर दिए गए फैसले को लेकर आईसीजे को बधाई दी है.

ICJ Verdict On Kulbhushan Jadhav Case: कुलभूषण जाधव मामले में भारत की बड़ी जीत, वियना संधि के उल्लंघन पर पाकिस्तान को ICJ की कड़ी फटकार, कहा- जाधव की फांसी की सजा की प्रभावी समीक्षा और पुर्नविचार करे PAK

Kulbhushan Jadhav ICJ Verdict: ICJ के फैसले के बाद कुलभूषण जाधव को लेकर बन सकती हैं कौन कौन सी संभावनाएं? भारत और पाकिस्तान के पास होंगे कौन से विकल्प?