Monday, January 30, 2023

अमेरिका : फटा दुनिया का सबसे बड़ा ज्वालामुखी ‘मौनालाओ’, आसमान हुआ लाल

नई दिल्ली : सोमवार को हवाई स्थित दुनिया का सबसे बड़ा वोल्केनो माउना लाओ फट गया. लगभग चार साल बाद इस वोल्केनो के फटने से आसमान में लाली छा गई. US जिओलोजिकल सर्वे की मानें तो वोल्केनो के फटने की शुरूआत रविवार से हो चुकी थी जिसके बाद एमरजेंसी क्रू अलर्ट पर था. हालांकि जवालामुखी की फटने के बाद इसका मलबा अधिक दूरी पर नहीं गया जिससे आसपास के लोगों को इसी तरह का नुकसान नहीं हुआ.

समिट एरिया में फटा वोल्केना

केवल समिट एरिया में ही वोल्केना फटने के बाद निकला लावा औऱ दूसरा मलबा रहा. हालांकि इसे दूर से भी देखा गया. जिओलोजिकल सर्वे के लगाए गए कैमरे में ये पूरी घटना कैद हुई है. जिसमें लंबी लावे की धार को ज्वालामुखी के मुख से निकलते हुए देखा जा सकता है.

1984 में फटा था ज्वालामुखी

बता दें, आईलैंड में 6 एक्टिव वोल्केनो हैं जिनमें से मौनालाओ को दुनिया का सबसे बड़ा ज्वालामुखी कहा जाता है. मौनालाओ साल 1843 से आज तक करीब 33 बार फट चुका है. इससे पहले साल 1984 में या लावा फटा था इस दौरान करीब 22 दिन तक 7 किलोमीटर के एरिया में लावा बहता रहा.

सीधी थी ढलान

मौनालाओ के पास ही इससे पहले साल 2018 में किलाउवे वोल्केनो फट गया था. इसमें लगभग 700 घर बुरी तरह से तबाह हो गए थे. किस्मत की बात ये रही कि 28 नवंबर, सोमवार को फटे मौनालाओ में अब तक कोई तबाही नहीं हुई है. गनीमत इसलिए क्योंकि इसकी ढलान बहुत ज्यादा सीधी हैं. ऐसे में लावा के नीचे गिरने की संभावना भी ज़्यादा थी. हालांकि चार दशक के बाद फाटे इस वोल्केनो से पूरे आसमान में लाली छा गई. इस लाली की कई तस्वीरें इंटरनेट पर भी वायरल हो रही हैं. लोग इसे देख कर चौंक रहे हैं. किसी को इस वोल्केनो के इतनी शान्ति से फटने की उम्मीद नहीं थी.

यह भी पढ़ें-

Russia-Ukraine War: पीएम मोदी ने पुतिन को ऐसा क्या कह दिया कि गदगद हो गया अमेरिका

Raju Srivastava: अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गए कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव

Latest news