पेरिस, फ्रांस. बिजनेस ट्रिप पर गए एक व्यक्ति की महिला से शारीरिक संबंध बनाने के बाद हार्ट अटैक से मौत हो जाने पर फ्रांस की एक अदालत ने इसे काम से संबंधित दुर्घटना मानते हुए उसकी कंपनी को मौत का जिम्मेदार ठहराया है. यह अपने आप में एक अनोखा मामला हो सकता है. अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जेवियर नाम का एक शख्स रेल इंजीनियिरिंग कंपनी टीएसओ में काम करता था. साल 2013 में वह कंपनी के काम से एक बिजनेस ट्रिप पर मध्य फ्रांस के लोरिएट में गया था. एक दिन का काम निपटाने के बाद उसने एक स्थानीय महिला के साथ उसके घर पर शारीरिक संबंध बनाए और फिर अपने होटल में लौट गया. बाद में होटल में उसकी हार्ट अटैक से मौत हो गई.

इसके बाद कोर्ट में केस चला. वहां की एक स्वास्थ्य बीमा कंपनी ने इसे काम से संबंधित दुर्घटना माना और बताया कि और कहा कि मृतक की कंपनी यानी टीएसओ उसके परिवार को हर्जाना दे. इसके जवाब में नियोक्ता कंपनी यानी टीएसओ ने कहा कि मृतक ने जब शारीरिक संबंध बनाए तो उसने काम को बीच में ही छोड़ दिया था. उसने कंपनी की नीति के खिलाफ जाकर वह काम किया.

हालांकि कोर्ट ने स्वास्थ्य बीमा कंपनी की दलीलों को माना और इस केस में टीएसओ को जिम्मेदार ठहराया. पेरिस की कोर्ट ने यह फैसला मई महीने में ही सुना दिया था लेकिन पिछले हफ्ते ही इस बारे में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लिंक्डइन पर इस केस की जानकारी वायरल हो गई. जिससे यह मामला चर्चा में आया.

फ्रांसीसी कानून के मुताबिक यदि किसी भी व्यक्ति की बिजनेस ट्रिप पर मौत हो जाती है तो इसे कार्य से संबंधित घटना या दुर्घटना ही माना जाता है. चाहे वह उस समय कंपनी का काम कर रहा हो या नहीं.

फिलहाल इस बारे में सोशल मीडिया पर कर्मचारियों के हित के बारे में चर्चा हो रही है. लोग बता रहे हैं कि यदि कोई भी व्यक्ति एक संस्थान के लिए काम करता है तो उस संस्थान की जिम्मेदारी होती है कि वह उसका और उसके परिवार का ख्याल रखे. क्योंकि एक कर्मचारी अपना आधा समय अपनी कंपनी अथवा अपने कार्यक्षेत्र पर बिताता है.

नौकरी के पहले दिन वक्त पर पहुंचने के लिए 32 किमी पैदल चला युवक, कंपनी के CEO ने गिफ्ट की कार

74 Years Woman Delivers Twins: आंध्र प्रदेश में 74 साल की महिला ने दिया जुड़वा बच्चों को जन्म, पति की उम्र 80 साल