पेरिस: फ्रांस के नीस शहर के नोट्रे डेम चर्च में गुरुवार को अल्लाह हु अकबर करते हुए एक हमलावर घुस गया और एक महिला का गला काट दिया साथ ही दो लोगों की चाकू मारकर हत्या कर दी. नीस शहर के मेयर ने इस घटना को खौफनाक घटना करार देते हुए इसे आतंकी घटना करार दिया है. पैगंबर मोहम्मद के कार्टून पर बचे बवाल के बाद ये लगातार दूसरी घटना है जब इस तरह किसी की हत्या की गई है. फ्रांस के एंटी टेरेरिज्म स्कवॉड ने इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है. घटना की जानकारी मिलते ही फ्रांस की एंटी टेरेरिज्म स्कवॉड के हथिराबंद जवानों ने चर्च को पूरी तरह घेर लिया. इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस और फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर मौजूद दिखी. खबर है कि पुलिस ने आरोपी को मार गिराया है.

फिलहाल ये साफ नहीं है कि हमलावर ने ये हमला क्यों किया. माना जा रहा है कि पैगंबर मोहम्मद के कॉर्टून को लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया है क्योंकि कुछ दिन पहले फ्रांस में ही एक टीचर की ऐसे ही हत्या कर दी गई थी. फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने टीचर की हत्या को कायराना करार देते हुए अभिव्‍यक्ति की आजादी और धर्म का उपहास उड़ाने के अधिकार का जमकर समर्थन किया था जिसके बाद उनकी पश्चिमी मुल्कों में आलोचना हुई थी.

ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी ने फ्रांस को चेतावनी दी थी कि पैगंमबर मोहम्मद की आलोचना करने से हिंसा को बढ़ावा मिलेगा. हसन रुहानी ने कहा था कि पश्चिमी देशों को समझना होगा कि पैगंबर मोहम्मद की आलोचना करना सभी मानवीय मुल्यों की आलोचना करना है और ऐसा करने से किसी को कुछ हासिल नहीं होगा. उन्होंने कहा था कि पैगंबर की आलोचना अनैतिक है और ये हिंसा का बढ़ावा देगा.

UP Hindu Leader Kamlesh Tiwari Murder: हिंदू समाज पार्टी के कमलेश तिवारी हत्याकांड में तीन गिरफ्तार, हत्यारे सीसीटीवी पर कैद, साजिश के तहत भगवा पहनकर आए थे मारने

Why Muslims Don’t Celebrate Christmas: ईसा मसीह को पैगंबर मानने वाले दुनिया के मुसलमान क्यों नहीं मनाते क्रिसमस ?