न्यूयॉर्क. नए साल पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को बड़ा झटका दिया है. अमेरिका द्वारा पाकिस्तान को 15 साल से दी जा रही आर्थिक सहायता पर डोनाल्ड ट्रंप ने रोक लगाने की बात कहते हुए कड़ा ट्वीट किया है. डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, ”अमेरिका ने पिछले 15 साल में पाकिस्तान को बेवकूफी में 33 अरब डॉलर की मदद दी है लेकिन इसके बदले उन्होंने हमें झूठ और धोखा दिया और ये समझते रहे कि हमारे नेता मूर्ख हैं. वो उन आतंकवादियों को सुरक्षित पनाह देता है जिन्हें हम अफगानिस्तान में खोजते हैं. अब और नहीं.” अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का यह ट्वीट निश्चित तौर पर पाकिस्तान को गहरा झटका देने वाला है. अमेरिका 15 साल में पाकिस्तान को 32 अरब डॉलर की राशि आर्थिक मदद के नाम पर दे चुका है.

बता दें की अमेरिका पाकिस्तान को लगातार आर्थिक सहायता देता आया है. 2002 से 2017 तक अमेरिका पाकिस्तान को 33 अरब डॉलर की आर्थिक सहायता दे चुका है. हालांकि अगस्त 2017 में अमेरिका ने पाकिस्तान को मिलने जा रही 255 मिलियन डॉलर की सहायता को रोक लिया था. अगस्त में अमेरिका ने कहा था कि जब तक पाकिस्तान आतंकवादी समूहों के खिलाफ और अधिक कार्रवाई नहीं करता, तब तक वह 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की धनराशि रोक रहा है.

डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद से ही चर्चाओं में रहे हैं. राष्ट्रपति बनने के बाद ही ट्रंप ने मुस्लिमों को कड़ी धमकी दी थी. ट्रंप के इस ट्वीट से पहले ही अमेरिका द्वारा पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक सहायता रोकने की खबरें सामने आ रही थीं. दो दिन पहले ही न्यूयॉर्क टाइम्स ने एक खबर में लिखा था कि क्या पाकिस्तान को सहायता राशि ना देकर ट्रंप उन्हें आतंकवाद विरोधी अभियानों पर सहयोग करने में नाकाम रहने पर सजा की चेतावनी देंगे. ट्रंप प्रशासन में इस बात को लेकर आंतरिक बहस छिड़ी हुई है.

पाकिस्तान में कुलभूणष जाधव की पत्नी के जूते उतरवाने के विरोध में बीजेपी प्रवक्ता तेजिंदर सिंह बग्गा ने पाक हाई कमीशन को भेजी चप्पल