टेक्सासः टेक्सास के एक स्थानीय अखबार में रिपब्लिकन पार्टी द्वारा दिए गए एड में भगवान गणेश की तस्वीर छापने पर विवाद शुरू हो गया है. ज़ोमैटो कंपनी द्वारा बनाए गए इस एड में भगवान गणेश के शरीर को लेकर कई खासियत लिखी हैं लेकिन उसके नीचे लिखे कैप्शन पर विवाद हो रहा है. कैप्शन में लिखा है, ‘क्या आप एक गधे की या फिर हाथी की पूजा करेंगे? पसंद आपकी.’ सोशल मीडिया पर इसे लेकर खासा विवाद हो रहा है.

टेक्सास के एक स्थानीय पेपर ‘इंडियन हेराल्ड’ के 12 सितंबर के संस्करण में गणेश चतुर्थी के अवसर पर भगवान गणेश की एक तस्वीर छापी गई थी. इसे मूल रूप से ज़ोमैटो द्वारा पोस्ट किया गया था. तस्वीर के नीचे एक विवादास्पद कैप्शन था, ‘क्या आप एक गधे की या फिर हाथी की पूजा करेंगे? पसंद आपकी.’ दरअसल हाथी रिपब्लिकन पार्टी का लोगो है. अखबार में तस्वीर छपने के बाद हिंदू-अमेरिकियों ने इसे आपत्तिजनक बताते हुए विरोध दर्ज कराया गया है.

डेमोक्रेटिक पार्टी के भारतीय मूल के नेता श्री प्रेस्टन कुलकर्णी ने इसे आपत्तिजनक बताते हुए तत्काल इसे हटाने और रिपब्लिकन पार्टी से माफी की मांग की है. उन्होंने रिपब्लिकन पार्टी पर राजनीतिक फायदे के लिए इस तरह की तस्वीर और कैप्शन का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया. हिंदू अमेरिकन फाउंडेशन (एचएएफ) ने कहा कि हम पार्टी द्वारा हिंदुओं के त्योहार के सहारे हिंदुओं तक पहुंचने के प्रयास की सराहना करते हैं लेकिन इसके लिए भगवान गणेश की तस्वीर का चयन और इसके नीचे लिखा कैप्शन सरासर गलत है और आपत्तिजनक है.

विरोध को बढ़ता देख रिपब्लिकन पार्टी के नेता जेसी जेट्टॉन मीडिया से मुखातिब हुए और उन्होंने इसके लिए माफी मांगी. उन्होंने कहा कि उनके द्वारा दिए गए इस विज्ञापन का मकसद हिंदुओं के भगवान गणेश की तरह मनुष्य को अच्छाइयों से अवगत कराना था. साथ ही इसके जरिए गधे और हाथी की तुलना करना भी था. पार्टी का मकसद हिंदू-अमेरिकियों की भावना को ठेस पहुंचाना हरगिज नहीं था. हम इसके लिए खेद प्रकट करते हैं. बताते चलें कि विज्ञापन के कैप्शन में गधे और हाथी की तुलना से मतलब डेमोक्रेटिक पार्टी और रिपब्लिकन पार्टी के लोगो से था. दरअसल रिपब्लिकन पार्टी का लोगो हाथी है और डेमोक्रेटिक पार्टी का लोगो गधा है. बताते चलें कि अमेरिका में 6 नवंबर को मध्यावधि संसदीय चुनाव होने जा रहे हैं. डेमोक्रेटिक नेता प्रेस्टन कुलकर्णी पूर्व राजनयिक रह चुके हैं और वह 22वें जिले टेक्सास से चुनाव लड़ रहे हैं.

विजय माल्या-अरुण जेटली की कथित मुलाकात पर कांग्रेस का तंज, KBC स्टाइल में पूछा 9000 करोड़ का सवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App