Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 
सांकेतिक तस्वीर

दुल्हन के वरमाला पहनाने के बाद खुशी के मारे हवा में दागा तमंचा, मेहमान...

0
Bride Groom Video: बिहार के भोजपुर जिले के नारायणपुर इलाके से शादी के महफ़िल में गोलीबारी का मामला सामने निकल कर आ रहा है....
Congress

किसके सर सजेगा हिमाचल के मुख्यमंत्री का ताज, कांग्रेस के विधायक दल की बैठक...

0
शिमला. हिमाचल प्रदेश में 40 सीटें जीतकर कांग्रेस सत्ता में वापस आ गई है, लेकिन अब कांग्रेस में सीएम पद को लेकर मंथन चल...

सलाम वेंकी : जानिए कैसी है फिल्म, बॉक्स ऑफिस पर होगी शानदार कमाई?

0
मुंबई: बॉलीवुड एक्ट्रेस काजोल अपनी फिल्म सलाम वेंकी को लेकर खूब सुर्ख़ियों में हैं। फैंस अभिनेत्री की इस फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर...
SHEHNAAZ GILL

शहनाज गिल ने पैपराजी को बोली ऐसी बात जिसके बाद हो रही हैं ट्रोल

0
मुंबई: शहनाज गिल किसी न किसी वजह से सुर्ख़ियों में रहती हैं। फैंस उन्हें हर अंदाज में देखना पसंद करते हैं। शहनाज आज किसी...

क्या हिमाचल में गुजरात और उत्तराखंड फार्मूला न अपनाकर भाजपा ने की कोई बड़ी...

0
नई दिल्ली. हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे बीते दिन आ गए. कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा चुनाव में 40 सीटें जीतकर सत्ता को अपने...

Queen Elizabeth Last rites: महारानी के अंतिम दर्शन नहीं कर पाएंगे चीनी अधिकारी, ये है वजह

नई दिल्ली. चीन के प्रतिनिधिमंडल को लंदन में महारानी एलिज़ाबेथ (Queen Elizabeth) के अंतिम विदाई में शामिल होने की अनुमति नहीं दी गई है, बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन (Britain) के कुछ सांसदों ने चीनी प्रतिनिधिमंडल के महारानी एलिज़ाबेथ के अंतिम दर्शन में शामिल होने पर आपत्ति जताई थी, इसी कड़ी में आपको बता दें कि चीन शिनजियांग क्षेत्र में मानवाधिकारों के उल्लंघन करने के आरोप में कई ब्रिटिश सांसदों पर प्रतिबंध लगा चुका है.

वहीं ब्रिटेन की संसद के निचले सदन हाउस ऑफ कॉमन्स के अध्यक्ष सर लिंडसे हॉयल ने चीनी सरकार के एक प्रतिनिधिमंडल को वेस्टमिंस्टर हॉल में दिवंगत महारानी के अंतिम विदाई में शामिल होने की अनुमति नहीं दी है, हालांकि वो महारानी के अंतिम संस्कार में शामिल हो सकेंगे लेकिन उन्हें संसद में होने वाले कार्यक्रम में शामिल होने की अनुमति नहीं दी गई है. बता दें महारानी का राजकीय अंतिम संस्कार सोमवार को वेस्टमिंस्टर एबे में किया जाएगा. बीबीसी और ‘पोलिटिको’ की खबरों के मुताबिक सर लिंडसे हॉयल ने उइगुर मुस्लिम अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न का आरोप लगाने के लिए पांच ब्रिटिश सांसदों के खिलाफ चीनी प्रतिबंधों के कारण चीनी प्रतिनिधिमंडल को महारानी की अंतिम विदाई में शामिल होने से इंकार कर दिया है.

दुनियभर के 2000 मेहमान होंगे शामिल

महारानी के अंतिम संस्कार में दुनियभर से 2000 मेहमान शामिल होंगे, जिसमें करीब 500 प्रतिष्ठित होंगे. वहीं महारानी का अंतिम संस्कार भारतीय समय के मुताबिक, 3.30 बजे किया जाना है. जिन देशों के साथ ब्रिटेन के राजनयिक संबंध हैं, उनके नेताओं को अंतिम संस्कार में बुलाया गया है, इसी कड़ी में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन भी अपनी पत्नी जिल बाइडन के साथ महारानी की अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए लंदन जाने वाले हैं.

इनके अलावा कॉमनवेल्थ राष्ट्रों के प्रमुख, जहां की महारानी राष्ट्रध्यक्ष भी थीं- वहां के नेताओं के भी शामिल होने की उम्मदी है. न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा आर्डन 24 घंटे की यात्रा कर लंदन पहुंचेंगी, इसके साथ ही कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो और ऑस्ट्रेलियाई प्रधान मंत्री एंथनी अल्बनीस भी 19 सितंबर को लंदन में होंगे. हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए जाएंगे या नहीं, इसकी अभी तक पुष्टि नहीं की गई है, लेकिन राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के जाने की पुष्टि कर दी गई है.

 

SCO समिट में जिनपिंग और शरीफ के सामने क्या बोले PM मोदी? जानें संबोधन की बड़ी बातें

Latest news