पेइचिंग: संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद यानी यूएनएससी में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने की भारत समेत दुनियाभर के देशों की कोशिशों को चीन ने फिर से मिट्टी में मिला दिया है. ऐसा लगातार चौथी बार हुआ है जब मसूद अजहर को लेकर सारी दुनिया एक तरफ और चीन एक तरफ और हर बार चीन के वीटो की वजह से मसूद अजहर वैश्विक आतंकी घोषित होने से बच जाता है.

दरअसल मसूद अजहर अगर संयुक्त राष्ट्र में वैश्विक आतंकी घोषित हो जाता तो उसके खिलाफ कई प्रतिबंध लग जाते. उसकी विदेशों में जो भी संपत्ति थी वो जब्त कर ली जाती. उसके यात्रा करने पर रोक लग जाती. भारत समेत कई देशों ने मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने को लेकर संयुक्त राष्ट्र में याचिका डाली थी लेकिन भारत को पहले से शक था कि चीन एक बार फिर मसूद अजहर को ग्लोबल टेरेरिस्ट बनने से रोक देगा और ठीक वैसा ही हुआ.

मसूद अजहर को लगातार चौथी बार आतंकी घोषित होने से रोकने वाले चीन की मंशा अब दुनियाभर को समझ आने लगी है. यही चीन वैश्विक मंच से आतंकवाद के खिलाफ बोलता है और पीछे से आतंकवाद को ही समर्थन देता है ताकि उसके देश में कोई आतंकी घटना ना हो फिर चाहे पूरी दुनिया आतंक के साए में जिए या मरे. चीन हर बार किसी भी आतंकी घटना पर रटा रटाया बयान जारी कर देता है कि वो आतंकी घटना की कड़े शब्दों में निंदा करता है मगर असल में उसकी कथनी और करनी में कितना अंदर है ये दुनिया ने आज चौथी बार देखा है.

Pakistan Air Force Fighter Planes LOC: एयर स्ट्राइक के बाद भी नहीं सुधरा पाकिस्तान, पूंछ में एलओसी के पास रडार पर दिखे दो लड़ाकू विमान

Indian Air strikes Pakistan Balakot: भारतीय वायुसेना ने एयर स्ट्राइक में मार गिराए 200 से ज्यादा आतंकी, पाकिस्तानी सेना के जवान का कबूलनामा इंटरनेट पर वायरल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App