नई दिल्ली. आर्कटिक महासागर में एक पनडुब्बी और युद्धपोत के टकराने के बाद ब्रिटेन ने अब रूस को युद्ध की धमकी दी है। ब्रिटेन के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ एडमिरल सर टोनी रेडकिन ने चेतावनी दी है कि अगर रूस महत्वपूर्ण पानी के नीचे संचार केबल काटता है तो इसे युद्ध का कार्य माना जाएगा। यह चेतावनी रूस-नाटो परिषद की बैठक से ठीक पहले दी गई है। इसमें पश्चिमी देश रूस से यूक्रेन की सुरक्षा की गारंटी मांगेंगे।

ब्रिटिश सीडीएस ने कहा- रूस बढ़ा रहा है ताकत

ब्रिटिश सीडीएस सर टोनी रेडकिन ने चिंता व्यक्त की कि रूस ने पिछले 20 वर्षों में पनडुब्बियों और पानी के नीचे की गतिविधियों में अभूतपूर्व वृद्धि की है। यह पूरी दुनिया के रियल टाइम कम्युनिकेशन सिस्टम को खतरे में डाल सकता है। इसके आधार पर रूस दुनिया भर के देशों को ब्लैकमेल भी कर सकता है। रूस से अपने विमानवाहक पोत को बचाने की कार्रवाई में ब्रिटेन, दो ‘आकाश की आंखें’ तैनात
हाइपरसोनिक मिसाइल विकसित करने पर जोर
उन्होंने रूस के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए ब्रिटेन द्वारा हाइपरसोनिक मिसाइल विकसित करने के महत्व पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि हमारे पास ऐसे हथियार नहीं हैं और हमें इनकी बहुत जरूरत है। उन्होंने यह भी कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच सीमा पर “गहरा चिंताजनक तनाव” है। एडमिरल ने कहा कि अगर रूस यूक्रेन पर हमला करता है तो उसने ब्रिटिश सरकार को सैन्य विकल्प भी सुझाए थे।

रूसी पनडुब्बी ब्रिटिश युद्धपोत से टकराई

यूके के रक्षा मंत्रालय ने दावा किया है कि एचएमएस नॉर्थम्बरलैंड (टाइप 23 फ्रिगेट) एर 2020 के अंत में इसे ट्रैक करते समय एक रूसी हंटर किलर पनडुब्बी से टकरा गया। टक्कर युद्धपोत के सोनार सिस्टम से टकराई। इस घटना को यूके चैनल 5 के टीवी क्रू ने एक शो की शूटिंग के दौरान रिकॉर्ड किया था। इस दौरान युद्धपोत के क्रू ने पनडुब्बी से टकराने की बात कही थी.

ब्रिटेन ने साइप्रस में तैनात किए हथियार

ब्रिटेन ने साइप्रस में अपने वायु सेना स्टेशन अक्रोटिरी में AWACS या एयरबोर्न अर्ली वार्निंग एंड कंट्रोल सिस्टम विमान तैनात किया है। ये विमान साइप्रस से उड़ान भरकर रूस के हवाई क्षेत्र की निगरानी कर रहे हैं। AWACS आधुनिक युद्ध का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है। जब तक ग्राउंड-आधारित रडार हमलावरों, लड़ाकू विमानों, क्रूज मिसाइलों और ड्रोन को खोज सकते हैं, वे उन्हें इससे पहले ढूंढ सकते हैं। इसके अलावा ये दुश्मन और दोस्त के लड़ाकू विमानों में आसानी से फर्क कर सकते हैं। इनकी मदद से दुश्मन की हर हरकत पर नजर रखी जा सकती है।

Election dates 2022 Live Updates: यूपी-पंजाब समेत 5 राज्यों में चुनावी तारीखों का ऐलान, रैलियों पर रोक

Corona Cases in Mumbai and Delhi: दिल्ली और मुंबई में कोरोना के मामलों में उछाल, एक दिन में 20-20 हज़ार नए केस

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर