लाहौरः पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्कूलों में होने वाले कार्यक्रमों में छात्र-छात्राओं के डांस करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. पंजाब प्रांत की सरकार ने इस प्रतिबंध के पीछे दलील दी है कि लोगों के सामने डांस करना अनैतिक कृत्य है. राज्य सरकार की तरफ से एक नोटिस जारी किया गया है. नोटिस में स्कूलों में किसी भी कार्यक्रम में डांस ना करवाने की बात कही गई है. इस नोटिस के बाद पंजाब प्रांत के किसी भी स्कूल में बच्चे किसी भी कार्यक्रम में डांस नहीं कर पाएंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राज्य सरकार के इस नोटिस में कहा गया है कि बच्चों पर डांस या किसी अन्य अनैतिक गतिविधियों में भाग लेने के लिए दबाव डालना धर्म के खिलाफ है और अगर कोई स्कूल ऐसा करता है तो उसका लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा. साथ ही स्कूलों के मालिक और शिक्षक अगर इस प्रतिबंध का उल्लंघन करते हैं तो उसके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

नोटिस में कहा गया कि स्कूलों में कई मौकों पर विभिन्न तरह के कार्यक्रम आयोजित होते हैं. जिसमें टीचर्स डे, फाउंडेशन डे और स्वतंत्रता दिवस के मौके पर होने वाले कार्यक्रम शामिल हैं. अक्सर इन कार्यक्रमों में बच्चे बॉलीवुड के गानों पर डांस करते दिखाई देते हैं. लेकिन अब किसी भी कार्यक्रम में डांस करने पर बैन होगा.

 

क्या आप जानते हैं इस्लाम में टैटू गुदवाने से लेकर शराब तक ये सभी चीजें हैं प्रतिबंधित?

पाकिस्तान की पहली हिन्दू दलित महिला सीनेटर बनीं कृष्णा कुमारी कोलही, ऊपरी सदन की सदस्य के रूप में ली शपथ

हंसल मेहता की फिल्म ओमेर्टा का फर्स्ट लुक जारी, पाकिस्तानी मूल के ब्रिटिश आतंकी पर आधारित है फिल्म की कहानी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App