Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 
Is gold is going to extinct from world

क्या ख़त्म होने वाला है सारी दुनिया का सोना?

0
क्या ख़त्म होने वाला है सारी दुनिया का सोना? सोने का इस्तेमाल आम इंसानों से लेकर दुनिया भर की सरकारें करती हैं। सोने के बग़ैर...

UP Crime: बीवी ने दोबारा सेक्स करने पर जताया ऐतराज़ तो पति ने गला...

0
UP Crime: उत्तर प्रदेश के अमरोहा ज़िले से रिश्तों को तार-तार करने वाला वाकया निकलकर सामने आ रहा है. जहाँ पर एक पति ने...

दिल्ली: कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, MCD चुनाव जीतने वाले पार्षद AAP में शामिल

0
नई दिल्ली. एमसीडी चुनाव के नतीजे आ गए हैं. एमसीडी में आम आदमी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिली है. दिल्ली नगर निगम चुनाव के...
MG 4 EV

नए साल पर पेश होने वाली है ये इलेक्ट्रिक कार, मिलेगी 452km की रेंज!

0
MG 4 EV: देश की कार कंपनी एमजी मोटर इंडिया (MG Motor India) अगले साल के आगाज़ में एकदम नई इलेक्ट्रिक कार पेश करेगी।...

Gujarat Muslim Seats: जानिए क्या है गुजरात की मुस्लिम बहुल्य सीटों का हाल?

0
Gujarat Muslim Candidates: गुजरात विधानसभा के नतीजों के बाद साफ़ है कि भारतीय जनता पार्टी ने भारी बढ़त के साथ जीत हासिल की है....

Russia-Ukraine war: UNSC में अमेरिका की पहल खारिज, रूस के खिलाफ लाया था प्रस्ताव

नई दिल्लीः रूस- यूक्रेन युद्ध को लेकर अमेरिका के रूख से सभी देश वाकिफ है। नाटो देश के अप्रत्यक्ष मदद के सहारे यूक्रेन भी युद्ध भूमि में रूस को कड़ी टक्कर दे रहा है। वहीं रूस ने अपनी रणनीति में बदलाव करते हुए कूटनीतिक तरीके से इस समस्या को हल करने में लगा है। जिससे नारज होकर अमेरिका ने साथी देशों के साथ मिलकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में रूस के खिलाफ एक प्रस्ताव को लेकर आया। इस प्रस्ताव में रूस के जनमत संग्रह को अवैध बताने के साथ- साथ रूस तत्काल प्रभाव से यूक्रेन से अपनी सेना वापस बुलाने की बात कही गयी थी।

अमेरिका का प्रस्ताव खारिज

शीत युद्ध के बाद विश्व में बनी अमेरिकी मोनोपोली को अब वैश्विक मंचों पर भी चुनौती मिलनी शुरू हो गई है। बता दें रूस ने यूक्रेन से चार इलाकों को जनमत संग्रह के आधार पर अपने देश में शामिल कर लिया है। रूस के इस फैसले से नाराजगी जताते हुए अमेरिका और अल्बानिया ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में रूस के खिलाफ एक प्रस्ताव लेकर आए। प्रस्ताव के पक्ष में 10 देशों ने समर्थन दिया। वहीं भारत, चीन, ब्राजील और गैबॉन ने इस प्रस्ताव से दूरी बनाई। हालांकि इस प्रस्ताव को रूस ने अपने वीटो पावर का इस्तेमाल करके खारिज कर दिया।

रूस से नाराजगी

यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध अभी भी जारी है। कई महीनों से चल रहे इस युद्ध में रूस ने नई रणनीति बनाई है। रूस ने जनमत संग्रह के आधार पर यूक्रेन के 4 इलाकों डोनेट्स्क, लुहान्स्क, जापोरिजिया और खेरसॉन को अपने में विलय कर लिया है। साथ ही रूस ने यूक्रेन के अप्रत्यक्ष साथियों को चेतावनी देते हुए कहा कि अब इन इलाकों में किसी प्रकार सैन्य चुनौती देने की कोशिश की, तो वह पूरी ताकत से इसका प्रत्युत्तर देगा।

जनमत में रूस को पूर्ण बहुमत

यूक्रेनी क्षेत्रों में रूस ने जनमत संग्रह करवाया। यह जनमत संग्रह 23 से 27 सितंबर के बीच यूक्रेनी क्षेत्रों के डोनेत्स्क, लुहांस्क, जेपोरीजिया और खेरसॉन में हुआ था। जनमत संग्रह के नतीजों को लेकर रूस ने दावा किया है कि इन चारों इलाकों के ज्यादातर लोगों ने रूस के पक्ष में वोट दिया है। एक रिपोर्ट के अनुसार, डोनेत्स्क में 99.2%, लुहांस्क में 98.4%, जेपोरीजिया में 93.1% और खेरसॉन में 87% लोगों ने रूस के साथ जाने के पक्ष में वोट दिया है। बता दें कि 2014 में भी रूस ने क्रीमिया को जनमत संग्रह के आधार पर ही अपना अधिकारिक हिस्सा बनाया।

 

China’s National Day:आज चीन मना रहा राष्ट्रीय दिवस, मौके पर शी जिनपिंग होगें मौजूद

Russia-Ukraine War: रूसी सेना का यूक्रेन पर बड़ा हमला, 30 की मौत, 50 से ज्यादा बुरी तरह घायल

Latest news