फ्लोरिडा: अमेरिका के फ्लोरिडा राज्य में निकोलस क्रूज नामक एक 19 वर्षीय युवक ने स्कूल में जाकर अंधाधुंध गोलीबारी कर दी. इस गोलीबारी में 17 लोगों की मौत हो गई. मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी युवक स्कूल का ही पूर्व छात्र है जिसे किसी वजह से स्कूल से निकाल दिया गया था. स्थानीय मीडिया की मानें तो इस घटना के बाद स्कूल में पढ़ाई कर रहे छात्रों के माता-पिता और पुलिस स्कूल परिसर के बाहर पहुंच गए. पार्कलैंड पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर मृतकों के परिवारों को सांत्वना दी है.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अमेरिका के फ्लोरिडा राज्य के स्कूल में उस समय अफरा-तफरी मच गई जब एक 19 वर्षीय युवक निकोलस क्रूज ने स्कूल परिसर में गोलीबारी शुरू कर दी. निकोलस स्कूल का पूर्व छात्र है जिसे स्कूल से निकाल दिया गया था. इस मामले में स्थानीय अधिकारी का कहना है कि घटना के समय निकोलस ने पहले स्कूल में फायर अलॉर्म बजाया, अलार्म की आवाज सुनकर जैसे ही स्कूल में अफरा-तफरी मची उसी दौरान निकोलस ने लोगों पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाना शुरू कर दिया.

गोलीबारी में 17 लोगों की मौत हो गई है, कुछ अन्य घायल हुए हैं. मामले की सूचना मिलते ही पुलिस ने स्कूल की बिल्डिंग को चारों ओर से घेर लिया और करीब 1 घंटे की मशक्कत के बाद आरोपी निकोलस को धर दबोचा. वहीं दूसरी ओर घटना के बाद स्कूल में पढ़ाई कर रहे छात्रों के माता-पिता स्कूल परिसर के बाहर पहुंच गए. इस घटना के बाद व्हाइट हाउस की प्रवक्ता लिंडसे वाल्टर्स ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को गोलीबारी की जानकारी देकर हम स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति ने भी ट्विटर के जरिए पीड़ित परिवारों को सांत्वना दी. बता दें कि स्कूल में काफी संख्या में भारतीय छात्र भी हैं. एक भारतीय छात्र के घायल होने की सूचना मिली है.

जम्मू कश्मीरः पाकिस्तान की ओर से LOC पर अंधाधुंध गोलीबारी में एक कैप्टन समेत 4 भारतीय जवान शहीद

न्यूयॉर्क आतंकी हमला: न्यूयॉर्क के लोअर मैनहटन में लोगों को ट्रक से कुचला, 8 की मौत