Tuesday, July 5, 2022

अफगानिस्तान भूकंप : सरकार का दावा- 300 लोगों की गई जान

नई दिल्ली, अफगानिस्तान में आज यानी बुधवार को भूकंप के झटके महसूस किये गए. भूकंप से मची तबाही में अब अफगान सरकार ने कुल 300 लोगों के मरने का दावा किया है. जहां भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के दक्षिणपूर्व में बताया जा रहा है. आपदा विभाग के अधिकारियों की मानें तो इस भूकंप की तीव्रता 6.1 मैग्निट्यूड की थी.

पाकिस्तान तक महसूस हुए झटके

इस भूकंप ने अफगानिस्तान में बड़े स्तर की तबाही मचाई है. जहां भूकंप के झटके इतने तेज थे कि इसे 500 किलोमीटर दूर अफगानिस्तान के पड़ोसी देश पाकिस्तान तक महसूस किया गया. जानकारी के मुताबिक इस भूकंप को साउथ-ईस्टर्न सिटी खोस्त से करीब 44 किलोमीटर (27 माइल्स) दूर तक भी महसूस किया गया. इस भूकंप की तीव्रता का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि इसे अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से लेकर पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद तक महसूस किया गया.

सैंकड़ों घर ढह गए

इस मामले में अफगानिस्तान के सरकारी प्रवक्ता बिलाल करीमी ने ट्वीट करते हुए कहा- “दुर्भाग्यवाश, पिछली रात को पक्तिका प्रांत के चार जिलों में तेज भूकंप के चलते देश के सैकड़ों लोग मारे गए और घायल हुए हैं. इसके साथ ही, दर्जनों घर क्षतिग्रस्त हुए. उन्होंने कहा कि हम सहायता करने वाली एजेंसियों से यह अपील करते हैं कि वे फौरन लोगों के बचाव कार्यों में टीम को भेज दें.” अब दावों की मानें तो इस भूकंप में करीब 300 लोगों की जान गई है और इसी बीच सैंकड़ों घर भी ढह चुके हैं.

भूकंप क्यों आता है?

भूकंप आने के पीछे ये वजह होती है कि धरती के अंदर 7 प्लेट्स ऐसी होती हैं जो लगातार घूमती रहती हैं. ये प्लेट्स जिन जगहों पर ज्यादा सक्रीय रहती हैं अर्थात टकराती हैं, उसे फॉल्ट लाइन जोन कहा जाता है. बार-बार टकराने से प्लेट्स के कोने मुड़ते हैं. जब प्रेशर ज्यादा बनने लगता है कि तो प्लेट्स टूटने लगती हैं. इनके टूटने के कारण अंदर की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है. इसी डिस्टर्बेंस के बाद भूकंप आता है।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news

Related news

<1-- taboola end -->