नई दिल्ली. अफ़गानिस्तान में तालिबान के क़ब्ज़े के बीच जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी ने बताया है कि कुछ अफ़गान छात्रों ने कैंपस में लौटने की इच्छा ज़ाहिर की है। बीबीसी की खबर के मुताबिक, बयान में कहा गया है कि दिल्ली सरकार के ताज़ा सर्कुलर के तहत यूनिवर्सिटी अभी बंद है लेकिन इस मामले को देखा जा रहा है। दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) से देश और दुनिया के अलग-अलग हिस्सों से छात्र पढ़ने आते हैं।

ब्रिटेन ने रोकी अफगानी छात्रों की स्कॉलरशिप

इसी बीच ब्रिटेन सकार ने अफ़ग़ानिस्तान के छात्रों की स्कॉलरशिप रोक दी है। अगले महीने से ब्रिटेन में स्कॉलरशिप पर पढ़ने जा रहे छात्रों से कहा गया है कि अब उनका दाख़िला नहीं हो पाएगा।

ब्रितानी सरकार की चेवनिंग स्कॉलरशिप के तहत दुनियाभर के प्रतिभाशाली छात्रों को ब्रिटेन आकर पढ़ने का मौका दिया जाता है। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में सुरक्षा हालात की वजह से वहाँ दूतावास समय पर एप्लीकेशन प्रोसेस नहीं कर पाएगा। ब्रिटेन सरकार के इस फ़ैसले से स्कॉलरशिप पाने वाले छात्रों को सदमा लगा है।

Independence Day 2021: लालकिले से पीएम मोदी का ऐलान- देश के सभी सैनिक स्कूलों में दाखिला ले सकेंगी बेटियां, जानें 15 अगस्त के भाषण की खास बातें

Haiti Earthquake: हैती में 7.2 की तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप ने मचाई तबाही, 304 लोगों की मौत, कई मलबे में दबे