पेरिस. पेरिस में हुए सीरियल ब्लास्ट में भी तक 160 लोगों के मारे जाने की खबर है. एक ही साल में फ़्रांस में यह चौथा बड़ा आतंकी हमला है. आतंकी संगठन ISIS ने इस हमले की जिम्मेदारी ले ली है. फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने तीखी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा है कि अब वे भी इससे बेदर्दी से निपटेंगे. उन्होंने कहा- हमें पता है इसके पीछे कौन है, वे कहां से आए हैं ये भी पता है. अब हम भी इसका जवाब उनके लहजे में देंगे.
 
हमले में बाल-बाल बचे राष्ट्रपति
नेशनल स्टेडियम के बाहर तीन आत्मघाती हमले हुए और जिस दौरान ये हमले हुए उस दौरान फ़्रांसीसी राष्ट्रपति भी स्टेडियम के अंदर मौजूद थे. नेशनल स्टेडियम के ही पास के इलाकों में 40 लोगों के मारे जाने की खबर है. इस स्टेडियम में हमले के वक्त फ्रांस और जर्मनी के बीच फुटबॉल मैच हो रहा था.
 
अलायंस पुलिस नेशनल के अधिकारी ग्रेगरी गौपिल ने कहा कि दो प्रवेश द्वारों और मैक्डॉनल्ड्स के निकट एक साथ विस्फोट हुए. स्टेडियम ग्रेगरी के इलाके में आता है. स्टेडियम में कल रात मौजूद असोसिएटेड प्रेस के एक रिपोर्टर ने दो विस्फोटों की आवाज सुनी. यह आवाज इतनी जोरदार थी कि वहां टीमों की हौसलाअफजाई कर रहे दर्शकों के भारी शोरगुल बावजूद भी यह कानों को भेद गई.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App