बर्लिन. साहित्य के क्षेत्र में 1999 में नोबेल पुरस्कार विजेता जर्मनी के जानेमाने उपन्यासकार, कवि, नाटककार व मूर्तिकार गुंटर ग्रास का सोमवार को ल्यूबेक में निधन हो गया. जर्मनी के अंतर्राष्ट्रीय प्रसारणकर्ता डॉयचे वेले की एक रपट के मुताबिक, ग्रास (87) का फेफड़े में संक्रमण के कारण निधन हो गया. मात्र 17 वर्ष की उम्र में हिटलर यूथ (नाजी पार्टी का युवा संगठन) के रूप में वह द्वितीय विश्व युद्ध का गवाह बने. बाद में वह नाजी स्पेशल फोर्स यूनिट वाफेन-एसएस में शामिल हो गए.

साहित्य के क्षेत्र में अपने कैरियर की शुरुआत उन्होंने 1952 में की. उन्होंने नाटक, कविता और उपन्यास लिखेय उनकी रचनाओं की सूची बेहद लंबी है, जिसमें ‘कैट एंड माउस’, ‘डॉग इयर्स’, ‘द टिन ड्रम’, ‘डांस्क ट्राइलॉजी’, ‘लोकल एनेस्थेटिक’, ‘फ्लाउंडर’, ‘द रैट’, ‘द कॉल ऑफ द टोड’ तथा ‘क्रैबवॉक’ जैसी रचनाएं हैं. उनकी रचना ‘टिन ड्रम’ पर वोल्कर स्क्लोनडॉर्फ ने 1979 में एक फिल्म बनाई, जिसने ऑस्कर जीता.

IANS

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App