तिबिलिसी. भारतीय मूल के मुस्लिम जैनुलाबदीन को जॉर्जिया एयरपोर्ट से इसलिए लौटा दिया गया क्योंकि उन्होंने दाढ़ी रखी हुई थी. जैनुलाबदीन का आरोप है कि मैं छुट्टियां बिताने के लिए जॉर्जिया गया था. दाढ़ी रखने के कारण मुझे एयरपोर्ट से ही अधिकारियों ने लौटा दिया और मेरे साथ अपराधियों जैसा सलूक भी किया. 
 
डेलीमेल की खबर के मुताबिक़, जैनुलाबदीन हाकिमजी को एयरपोर्ट पर मौजूद सुरक्षा अधिकारियों ने उन्हें उनकी दाढ़ी की वजह से देश में घुसने नहीं दिया. उनका यह भी आरोप है कि जब वे वापस लौटने के लिए जब रिटर्न फ्लाइट का इंतजार कर रहे थे, तब उन्हें एयरपोर्ट का टॉयलेट भी इस्तेमाल नहीं करने दिया गया. जैनुलाबदीन को सुरक्षा अधिकारियों ने कथित तौर पर कहा कि अगली बार जब वे जॉर्जिया आएं तो फॉर्म में साफ तौर पर बताएं कि वे भारतीय हैं, न कि यूएई के रहने वाले.
 
जॉर्जिया दूतावास ने किया खंडन
कुवैत स्थित जॉर्जिया के दूतावास ने हाकिमजी के इन आरोपों को पूरी तरह आधारहीन बताया है. दूतावास के अनुसार, हाकिमजी का यह कहना कि वे मुस्लिम हैं और उनकी वेशभूषा के कारण उन्हें एंट्री नहीं मिली, पूरी तरह गलत है. जॉर्जिया ने मुस्लिम देशों के लिए अपने दरवाजे खुद ही खोल रखे हैं. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App