ओस्लो. शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान हो गया है. साल 2015 के लिए ट्यूनीशियाई संगठन नेशनल डायलॉग क्वार्टेट को शांति का नोबेल पुरस्‍कार दिया गया है.

2011 की जैस्मीन क्रांति के मद्देनजर ट्यूनीशिया में बहुलवादी लोकतंत्र के निर्माण में निर्णायक योगदान के लिए इस संगठन को पुरस्‍कार से नवाजा गया है.

नोबेल समिति ने कहा कि इस पुरस्कार का उद्देश्य अन्य देशों को इसके लिए प्रोत्साहित करना है कि वे ट्यूनीशिया के नक्शेकदम पर चलें. इसमें कहा गया है कि नॉर्वे नोबेल समिति उम्मीद करती है कि इस साल का पुरस्कार ट्यूनीशिया में लोकतंत्र की रक्षा करने में सहायक होगा और ये उन सभी के लिए प्रेरक होगा, जो पश्चिम एशिया, उत्तर अफ्रीका और विश्व के बाकी हिस्सों में शांति और लोकतंत्र को प्रोत्साहित करना चाहते हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App