पेरिस. फ्रांस के कोटे-द-अजूर में तूफान के बाद आई बाढ़ में 17 लोगों की मौत हो गई. अधिकारियों के मुताबिक, बाढ़ से प्रभावित कई शहरों में काफी नुकसान हुआ. अधिकारियों ने रविवार को बताया कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है, क्योंकि कुछ लोग अब भी लापता हैं.
 
फ्रांस में साल 1990 के बाद यह सबसे खतरनाक तूफान है. राष्ट्रपति फ्रांस्वा होलांद ने रविवार को आपदा प्रभावित इलाकों का दौरा किया. 
 
मौसम विभाग ने बाढ़ के खतरे की चेतावनी जारी की थी, लेकिन किसी को उम्मीद नहीं थी कि यह इस कदर भयानक होगी. बाढ़ के कारण सड़कों पर पानी भर गया है. जगह-जगह वाहन फंसे हैं और पेड़ भी गिरे हुए हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App