मक्का. सऊदी अरब में हज के दौरान मीना में भगदड़ मचने से मरने वाले हज यात्रियों का आंकड़ा 717 तक पहुंच गया है. हादसे में 14 भारतीयों की भी मौत हुई है और इसमें 863 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. 14 भारतीयों में 9 गुजरात, 2 झारखंड, 2 तमिलनाडु और 1 महाराष्ट्र से हैं. विदेश मंत्री सुषमा स्वाराज ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि सऊदी अधिकारियों के जांच के बाद ही मरने वालों की सही संख्या का पता चल पाएगा. घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए कई एंबुलेंस को मौके पर भेजा गया है और 4000 से ज्यादा लोग राहत के काम में लगे हुए हैं.
 
हादसा उस समय हुआ जब मीना में शैतान को पत्थर मारने की रस्म अदा की जा रही थी.  माना जा रहा है कि मरने वालो का आंकड़ा इससे भी ज्यादा हो सकता है.
 
हेल्पलाइन नंबर जारी
सऊदी अरब में भारतीय दूतावास की ओर से हेल्पलाइन नंबर 00966125458000,00966125496000 जारी किया है. लोग अपनों के बारे में इस नंबर पर जानकारी हासिल कर सकते है.
 
एक महीने के भीतर दूसरा बड़ा हादसा-
इससे पहले भी मक्का मस्जिद में क्रेन गिरने से 111 लोगों की मौत हो गई थी.
 
इससे पहले भी हुए हादसे
1987 : ईरानी श्रद्धालुओं और सऊदी सरकार के बीच झड़प में 402 लोगों की मौत और 650 लोग घायल.
1989 : मक्का में दो बम ब्लास्ट में एक की मौत, 16 घायल.
1990 : भगदड़ में 1426 लोगों की मौत.
1994 : भगदड़ से 270 लोगों की मौत.
1997 : आग लगने से 340 से ज्यादा लोगों की मौत, 1500 घायल.
1998 : ओवरपास पर 180 लोगों की मौत.
2001 : भगदड़ में 35 लोगों की मौत.
2004 : भगदड़ में 200 से ज्यादा लोगों की मौत.
2006 : भगदड़ की वजह से 300 लोगों की जान गई.
 
 
 
 
 
 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App