ढाका. बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) की प्रमुख और बांग्लादेश की पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया को भ्रष्टाचार के दो मामलों में एक अदालत ने जमानत दे दी है. वह तीन माह से अपने पार्टी दफ्तर में रह रहीं थी. खालिदा पर पांच करोड़ बांग्लादेशी टका (लगभग 646,000 डॉलर) से अधिक धनराशि के गबन का आरोप है. 25 फरवरी को भ्रष्टाचार के मामलों की सुनवाई के दौरान अदालत में पेश नहीं होने के बाद ढाका की अदालत ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था. चार मार्च को अदालत ने गिरफ्तारी वारंट वापस लेने संबंधी उनकी याचिका खारिज कर दी थी. इन मामलों में शामिल अन्य दो आरोपियों को भी जमानत दे दी गई. इन मामलों की अगली सुनवाई पांच मई को होगी.

बचाव पक्ष के वकीलों ने अदालत को बताया कि बीएनपी प्रमुख की अनुपस्थिति ‘अनैच्छिक’ है. वह अपने बेटे अराफात रहमान कोको की मृत्यु और सुरक्षा कारणों की वजह से अदालत में पेश नहीं हो सकी थीं. खालिदा तीन जनवरी से अपनी पार्टी के दफ्तर में रह रहीं थी. उन्होंने विवादित आम चुनाव के एक साल पूरे होने के अवसर पर सरकार विरोधी मार्च निकालने की धमकी दी थी, जिसके बाद उन्हें उनके दफ्तर में नजरबंद कर दिया गया था. बीएनपी के नेतृत्व वाले 20 सहयोगी दलों के गठबंधन ने पिछले साल आम चुनाव का बहिष्कार कर दिया था. इन्होंने गैर दलीय कार्यवाहक सरकार के नेतृत्व में नए सिरे से संसदीय चुनाव की मांग करते हुए पांच जनवरी से देशव्यापी नाकेबंदी का आह्वान किया था.

IANS

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App