नई दिल्ली. उत्तरी लद्दाख के बर्तसे में भारतीय सेना की कार्रवाई के बाद भारत और चीन की फौज के बीच एक बार फिर टकराव की स्थिति पैदा हो गई है. शुक्रवार के दिन यहां भारतीय सेना ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के करीब चीनी सेना के अवैध टेंट को उखाड़ फेंका था जिसे चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने एलएसी के निकट बनाया था.
 
इसके बाद दोनों तरफ फौज की तादाद बढ़ने लगी. सूत्रों के मुताबिक इस मसले पर फ्लैग मीटिंग की कोशिशें की गईं, मगर चीनी सैनिक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. सेना के वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक भारतीय सैनिकों ने चीनी भाषा में बैनर चीनी सैनिकों को दिखाए, जिन पर उनसे अपने क्षेत्र में लौटने को कहा गया था. चीन बर्तसे को अपना हिस्सा बताता रहा है, जबकि भारत हमेशा इसका विरोध करता है. भारत के लिए यह क्षेत्र काराकोरम हाईवे के जुड़ाव के कारण महत्वपूर्ण है.
 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App