पेरिस. जर्मनविंग्स विमान हादसा मामले में जांचकर्ताओं ने एक और खुलासा किया है. दुर्घटनाग्रस्त विमान से मिले दूसरे ब्लैक बॉक्स के आंकड़ों के मुताबिक, सह पायलट ने जानबूझकर विमान को गिरने के लिए छोड़ दिया था. फ्रेंच ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन एंड एनालिसिस (बीईए) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

स्पेन की समाचार एजेंसी एफे ने बीईए के हवाले से कहा कि दूसरे ब्लैक बॉक्स से मिले आंकड़ों के मुताबिक, सह पायलट लुबित्ज ने विमान को पहले ऑटो पायलट डिसेंट सिक्वेंस (ऊंचाई कम करने के लिए) मोड में डाला और इसके बाद एक्सीलेटर दबाकर नीचे गिरने की गति को बढ़ा दिया.

बीईए ने एक बयान में कहा, “आंकड़ों की प्रारंभिक जांच के मुताबिक, कॉकपिट में बैठे पायलट ने विमान को 100 फीट नीचे लाने के लिए उसे पहले ऑटोमेटिक पायलट मोड में डाला, उसके बाद विमान की नीचे गिरने की गति बढ़ाने के लिए उसने पायलट मोड को बदल दिया.” जर्मनविंग्स एयरबस ए320 दक्षिणी फ्रांस के आल्प्स-डी-हौत प्रांत में आल्प्स पहाड़ी पर 24 मार्च को तड़के दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. विमान ने बार्सिलोना से ड्यूसेलडोर्फ के लिए उड़ान भरी थी.

इस दुर्घटना में विमान में सवार सभी 150 यात्रियों की मौत हो गई थी. विमान का फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर गुरुवार को बरामद किया गया था, जबकि पहला ब्लैक बॉक्स यानी कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर दुर्घटना के कुछ घंटे बाद ही बरामद कर लिया गया था. दूसरे ब्लैक बॉक्स में विमान के 25 घंटों के आंकड़े उपलब्ध हैं, जिसमें गति, ऊंचाई तथा पायलट मोड दर्ज है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App