इस्लामाबाद. भारत और पाकिस्तान के बीच नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर्स (एनएसए) की मीटिंग रद्द होने के बाद अब पाक NSA सरताज अजीज ने भारत को खुली धमकी दी है. सरताज ने कहा कि मोदी सरकार ऐसे बर्ताव कर रही है जैसे कि वे रीजनल सुपरपावर हों लेकिन पाकिस्तान भी न्यूक्लियर पावर वाला देश है. हम जानते हैं कि खुद की हिफाजत कैसे करनी है. 
 
अजीज ने कहा कि पाकिस्तान में आतंकवाद को बढ़ावा देने में भारत की खुफिया एजेंसी रॉ के शामिल होने के सबूत हमारे पास हैं. पाकिस्तानी अखबार द डॉन की सोमवार की खबर के मुताबिक, अजीज ने भारत पर पाकिस्तान के खिलाफ सिर्फ प्रौपेगेंडा करने का आरोप लगाया. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के एडवाइजर अजीज ने कहा कि हमें सबूत देने के बदले पाकिस्तान के खिलाफ प्रौपेगेंडा करना भारतीयों का काम हो गया है.  (यह भी 
 
क्या बोले अजीज़
अजीज ने कहा, भारत हालात को नॉर्मल बनाने के लिए खुद की शर्त रख रहा है. वे ट्रेड और अन्य मुद्दों को लेकर तो बातचीत करना चाहते हैं लेकिन कश्मीर पर नहीं. अगर भारत के लिए कश्मीर कोई मुद्दा ही नहीं है तो वहां उन्होंने 7,00,000 जवान क्यों तैनात कर रखे हैं. अजीज ने कहा कि भारत को कश्मीर में जल्द से जल्द रेफरंडम (जनमत संग्रह) करना चाहिए. लोगों को फैसला लेने दें कि वे कहां और कैसे रहना चाहते हैं.
 
पाकिस्तानी पीएम के विदेश मामलों के एडवाइजर अजीज ने कहा कि भारत का कोई पैंतरा काम नहीं करेगा. इस एपिसोड के बाद उन्हें यह समझ ही लेना चाहिए. पाकिस्तान से बातचीत को लेकर उन्हें गंभीर होना पड़ेगा. अजीज ने कहा कि भले ही एनएसए लेवल की मीटिंग नहीं हुई लेकिन बाकी मीटिंग्स होंगी. उन्होंने कहा कि रेंजर्स और बीएसएफ के बीच मीटिंग होगी. डीजीएमओ भी मिलेंगे ताकि तनाव कम करने को लेकर कोई मैकेनिज्म बनाया जा सके. पाकिस्तानी रेंजर्स-बीएसएफ के बीच 6 सितंबर को होनी है. डायरेक्टर्स जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशन (डीजीएमओ) भी जहां चाहेंगे मिल सकेंगे. 
एजेंसी इनपुट भी 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App