वॉशिंगटन: हिज्बुल मुजाहिदीन का सरगना सैयद सलाउद्दीन को अमेरिका अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर दिया है. पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद पर भारत की ये बहुत बड़ी जीत है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से पहले अमेरिका ने सैयद सलाउद्दीन का अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर दिया है. 
 
सलाउदीन को ग्लोबल आतंकी घोषित करने पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने बताया कि नोटिफिकेशन आ गया है, हम उस पर गौर करेंगे और देखेंगे कि क्या प्रावधान किए गए हैं. सामान्य तौर पर यह भारत की इस बात का समर्थन करता है कि कश्मीर में अशांति के पीछे सीमा पार प्रायोजित आतंकवाद का हाथ है. 
 
 
ट्रंप से मुलाकात से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स डब्ल्यू टिलरसन से मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद ही सैयद सलाउद्दीन अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर दिया गया.अब से कुछ ही घंटे बाद व्हाइट हाउस में पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रंप से मिलेंगे. 
 
 
अमेरिका इस मुलाकात को कितनी अहमियत दे रहा है ये इसी से जाहिर हो जाता है कि ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार किसी राष्ट्राध्यक्ष को व्हाइट हाउस बुलाया गया है. दोनों नेता अमेरिकी समय के मुताबिक दोपहर के साढ़े तीन बजे और भारतीय समय के अनुसार रात के करीब 1 बजे मिलेंगे.
 
 
व्हाइट हाउस में भारत के प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत किया जाएगा और फिर दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों के बीच एक लंबी और बेहद अहम मुलाकात शुरु हो जाएगी. पीएम मोदी करीब-करीब पांच घंटे तक व्हाइट हाउस में रहेंगे. ऐसा पहली बार होगा जब व्हाइट हाउस में कोई राष्ट्राध्यक्ष इतना लंबा समय बिताएगा. यही नहीं पहली बार किसी राष्ट्राध्यक्ष को व्हाइट हाउस में डिनर दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर