इस्लामाबादः पाकिस्तान में कल मंगलवार यानी 4 सितंबर को राष्ट्रपति का चुनाव होगा जिसमें पीएम इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-पाकिस्तान के उम्मीदवार आरिफ अल्वी की जीत की संभावना जताई जा रही है. ऐसा माना जा रहा है कि पीटीआई कैंडिडेट आरिफ अल्वी इस चुनाव में विजयी होंगे क्योंकि विपक्ष संयुक्त उम्मीदवार को उतारनें में नाकाम रहा है. इससे पहले सोमवार को पाकिस्तान चुनाव आयोग ने इस संबंध में सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं. नेशनल असेंबली के साथ-साथ सभी प्रांतीय असेंबली में भी वोटिंग बूथ बनाए गए हैं.

कौन-कौन हैं उम्मीदवार

पाकिस्तान में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए सत्तारूढ़ पाकिस्तान, तहरीक-ए-पाकिस्तान के कैंडिडेट आरिफ अल्वी, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के चौधरी एतजाज अहसन और जमीअत-ए-उलेमा (एफ) चीफ मौलाना फजल उर रहमान चुनावी मुकाबले में हैं. आपको बता दें कि इनमें से  तहरीक-ए-पाकिस्तान के कैंडिडेट आरिफ अल्वी के जीतने की चांस ज्यादा हैं. बता दें कि अल्वी डेंटिस्ट से नेता बने हैं. चुनाव में संयुक्त विपक्ष अल्वी को चुनौती देने के लिए एक कैंडिडेट को खड़ा करने वाला था लेकिन ऐसा संभव नहीं हो पाया. वहीं पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ने पिछले महीने इस चुनाव के लिए जाने-माने वकील और वरिष्ठ नेता अहसन को नॉमिनेट किया था.

जिस पर पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) और मुत्ताहिदा मजलीस-ए-अम्ल यानी एमएमए ने इसका विरोध किया था जिसके बाद मतभेद इतना बढ़ गया कि रहमान को नॉमिनेट किया गया. बता दें कि कुछ ही दिन पहले पीटीआई प्रमुख इमरान खान ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के तौर पर शपथ ली थी. उनके शपथ ग्रहण समारोह में भारत की ओर से कांग्रेस नेता औऱ पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू पहुंचे थे जिस पर काफी विवाद खड़ा हो गया था. 

यह भी पढ़ें- पाकिस्तान की बर्बाद अर्थव्यवस्था को विदेशी अर्थशास्त्रियों से रिपेयर कराएंगे प्रधानमंत्री इमरान खान

अब इमरान खान के पाकिस्तान में सादगी का तमाशा, पीएम की लग्जरी कारों की 17 सितंबर को नीलामी