नई दिल्ली. आपने चिड़ियाघर के अंदर बाड़े या पिंजरे में कैद खतरनाक जानवरों को देखने का मजा तो कई बार लिया होगा, लेकिन क्या कभी चिड़ियाघर जानवरों की जगह इंसानों को पिंजरे में बंद देखा है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
यह आलम चीन के चॉन्गकिंग सिटी का लेहे लेडू वाइल्ड लाइफ चिड़ियाघर का है. यहां लोगों को पिंजरे में बंद कर दिया जाता है और खतनाक जानवर उनके पिंजरे को घेर कर घूरते हैं. दरअसल, यहां पर लोगों को पिंजरे में बंद करके इन खतरनाक जानवरों को बेहद करीब से देखने का मौका दिया जाता है. जो कि काफी एडवेन्चर है.
 
चिड़ियाघर के प्रबंधन की मानें तो ऐसा इसलिए किया जाता है क्योंकि खतरनाक जानवरों के पास जाना बेहद खतरनाक है. लेकिन इस तरह से टूरिस्ट जू घूमने का आनंद लेने के साथ-साथ इन खतरनाक जानवरों को पास से निहारने का आनंद ले सकते हैं.  
 
पिंजरों पर बांधे जाते हैं मांस के टुकड़े
 
इतना ही नहीं जानवरों को पिंजरे के पास बुलाने के लिए पिंजरे के बाहर मांस के टुकड़े बांध दिए जाते हैं, जिससे शेर, बाघ जैसे खतरनाक जानवर दौड़ कर पिंजरे के पास पहुंच जाते हैं. हालांकि इस दौरान टूरिस्टों को अंगुली या शरीर का कोई भी हिस्सा बाहर ना निकालने की सख्त हिदायत भी दी गई है.