स्‍टॉकहोम. इस वर्ष भौतिक विज्ञान के नोबेल पुरष्कार के लिए तीन वैज्ञानिकों को चुना गया है. डेविड थाउलेस, डंकन हालडेन और माइकल कोस्‍टेरलिट्ज को नोबेल पुरस्कार से सम्‍मानित किया जाएगा.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रॉयल स्‍वीडिश एकेडमी ऑफ साइंस की ओर से मंगलवार को बताया गया कि क्‍यों इन तीनों वैज्ञानिकों को नोबेल पुरस्‍कार से नवाजा गया है. खास बात यह है कि यह तीनों ही वैज्ञानिक ब्रिटिश मूल के हैं. 
 
एकेडमी से मिली जानकारी के मुताबिक तीनों को इनकी द्रव्‍य की अवस्‍थाओं पर रिसर्च करने की वजह से यह पुरस्‍कार दिया जा रहा है.  इस खोज के बाद लोगों को भविष्य में विज्ञान और इलेक्ट्रॉनिक्स से जुड़े तत्वों की और एडवान्स एप्लीकेशन की उम्मीद है.
 
इसके साथ ही एकेडमी की ओर से तीनों वैज्ञानिकों को उनकी खोज के लिए धन्‍यवाद किया गया है और एकेडमी ने कहा है कि अब इस खोज के द्रव्‍य के नए आयामों की तलाश की जाएगी. इन तीनों को पुरस्‍कार के रुप में लगभग आठ मिलियन की धनराशि भी दी जाएगी.
 
आपको बता दें कि इससे पहले सोमवार को जापान के योशिनारी ओहसुमी को चिकित्‍सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्‍कार से सम्मानित किया गया था.