वाशिंगटन. व्हाइट हाउस के दौड़ के लिए हिलेरी क्लिंटन और डोनाल़्ड ट्रंप के बीच पहली बहस हुई. इस दौरान डोनाल्ड ने राष्ट्रपति बराक ओबामा पर करारा हमले करते हुए उन्हें शिकागो में पुलिस शूटिंग के लिए जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि ओबामा के कार्यकाल में शिकागों में करीब 4000 लोग मारे गए.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
ट्रंप ने कहा कि शिकागो इसका प्रमाण है कि अमेरिका शूटिंग की कितनी बड़ी समस्या से जूझ रहा है. अमेरिका का शिकागो शहर युद्ध क्षेत्र नहीं है, लेकिन ओबामा के कार्यकाल में युद्ध क्षेत्र जैसा ही हो गया है. केवल 2015 में शिकागो में 2988 लोग पुलिस शूटिंग में मारे गए हैं.
 
उन्होंने अमेरिका मे काननू-व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि देश में इसकी स्थिति बेहद ही खराब है. इसे सुधारने की जरूरत है, लेकिन क्लिंटन ने पूरे डिबेट में इसका एक बार भी जिक्र नहीं किया.
 
दर्शक ने ली चुटकी
इसी बीच दर्शकों के बीच मौजूद Rudy Giulian ने कहा कि ट्रंप का कहना है कि देश में कानून-व्यवस्था को बनाने की जरूरत है, लेकिन मेरा मानना है कि न्यूयॉर्क में कानून व्यवस्था बखूबी काम कर रहा है.
 
क्लिंटन से सवाल के साथ शरुआत
स्टेज पर हिलेरी और ट्रंप के पहुंचने पर मोडेरेटर ने सबसे पहला सवाल हिलेरी से ही किया. उन्होंने हिलेरी से पूछा कि अमेरिकी लोगों को जॉब देने के लिए आपके पास क्या विकल्प हैं?
 
जबाव में हिलेरी ने सबसे पहले अध्यक्ष और दर्शकों को शुक्रिया कहा. इसके बाद उन्होंने कहा, ‘मैं अमेरिकी लोगों के लिए निवेश करना चाहती हूं. मैं भविष्य के लिए निवेश करना चाहती हूं. हमें अमेरिकी अर्थव्यवस्था के साथ भी न्यायपूर्ण तरीके से पेश होना होगा.’
 
ट्रंप ने अरबपति पिता से लोन लिया- हिलेरी
हिलेरी ने कहा कि डोनाल्ड बहुत ही भाग्यशाली इंसान हैं. ट्रंप ने अपने अरबपति पिता से 14 मिलियन डॉलर लोन के रूप में लिया और अपना बिजनेस शुरू किया. इसके जवाब में ट्रंप ने कहा कि वह एक छोटा सा लोन था.
 
बता दें कि इस डिबेट को लेकर लोगों में काफी उत्साह देखा गया. इससे पहले यह उत्साह 1980 में डेमोक्रेट राष्ट्रपति जिमी कार्टर और रिपब्लिकन रोनाल्ड रीगन के बीच बहस के दौरान देखी गई थी, जब डिबेट को आठ करोड़ लोगों ने देखा था. इस बार सबसे बड़ी बात यह है कि किसी बड़ी पार्टी ने पहली बार किसी महिला को उम्मीदवार बनाया है.