लाहौर. पाकिस्तान में भारत की फिल्मों पर बैन की मांग को लेकर पाकिस्तान की लाहौर हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई. शनिवार को दायर याचिका में कहा गया है कि जब तक कश्मीर मुद्दे का समाधान नहीं हो जाता तब तक पाकिस्तान में भारतीय फिल्मों के प्रदर्शन पर रोक लगाई जाए. बता दें कि ऐडवोकेट अजहर सादिक ने ये याचिका दायर की है.
 
ख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
सादिक ने दावा किया है कि कश्मीर में  भारतीय फौज कथित तौर पर मानवाधिकारों का उल्लंधन कर रही हैं और पाकिस्तान में भारतीय फिल्मों को दिखाने की इजाजत देने से न केवल कश्मीरियों बल्कि पाकिस्तानी आवाम की भावनाओं को ठेस पहुंच रही है.
 
 
सादिक ने यह दलील भी दी है कि भारतीय फिल्मों में लगातार पाकिस्तान की कश्मीर नीति की मुखालफत भी हो रही है और कश्मीरियों की आजादी के आंदोलन की राह में बाधा भी बन रही है. अजहर सादिक ने याचिका में ये मांग की है कि पाकिस्तानी हुकूमत को कश्मीरियों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए भारत की फिल्मों पर तुरंत रोक लगा देने का आदेश देना चाहिए.
 
 
बता दें कि उरी आतंकी हमले के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) ने पाकिस्तानी कलाकारों को 48 घंटों में भारत छोड़ने की धमकी दी है. MNS ने भारत में काम करने वाले पाकिस्तानी कलाकारों को चेतावनी दी है कि वे 48 घंटों के अंदर भारत छोड़ दें. अगर वो ऐसा नहीं करते हैं, तो उन्हें पीट-पीटकर निकाला जाएगा.