वाशिंगटन. उरी आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को बड़ा झटका लगा है. दरअसल, अमेरिकी संसद में पाकिस्तान को लेकर एक बिल पेश किया गया है. जिसमें पाकिस्तान को  एक आतंकवादी मुल्क घोषित करने की मांग की गई है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
रिपोर्ट्स के अनुसार, इस विधेयक को अमेरिकी सांसद टेड पो ने सांसद डाना रोहराबेकर के साथ मिलकर अमेरिकी सांसद में पेश किया है. एचआर 6069 या द पाकिस्तान स्टेट स्पॉन्सर ऑफ टेररिजम डेजिगनेशन एक्ट नाम से यह बिल पेश किया गया है. खास बात यह है कि बिल आने के चार महीने के अंदर अमेरिकी प्रशासन को इस पर औपचारिक फैसला लेना होगा.
 
4 महीने के अंदर लेना होगा औपचारिक फैसला
इसके अलावा अमेरिकी राष्ट्रपति को 90 दिन के भीतर एक रिपोर्ट जारी कर यह बताना होगा कि पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद को बढावा है या नहीं. इतना ही नहीं इसके 30 दिन बाद एक फॉलोअप रिपेार्ट संसद में पेश कर बताया जाएगा कि पाकिस्तान को आतंकवाद प्रायोजित देश घोषित किया जाएगा या फिर अगर नहीं तो इसके क्या कारण होंगे.
 
वहीं दूसरी ओर कांग्रेस सांसद टेड पो ने बिल पेश करते हुए कहा कि पाक की हरकतों से पड़ोसी देशों को गंभीर खतरा है. इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि इस बात के कई प्रमाण हैं कि पाकिस्तान में ही नहीं पाकिस्तान सरकार ने भी सालों से अमेरिका के दुश्मनों को समर्थन दिया है.